रामपुर में दो 'नवाबों' के बीच खिंची तलवारें, दर्ज हुई FIR

Noida, Uttar Pradesh, India
रामपुर में दो 'नवाबों' के बीच खिंची तलवारें, दर्ज हुई FIR

फंस सकते हैं ये 'नवाब' नेता

रामपुर। चुनाव खत्म होते ही रामपुर की राजनीति और ज्यादा गर्म हो गई है। रामपुर के नए नवाब कहे जाने वाले आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम और नवाब परिवार के बेटे हमजा अली खान के बीच खिंची तलवारे एफआईआर में बदल गई है। साथ ही पुलिस की जांच शुरू भी हो गई है। वहीं इस मामले पर आजम खान की पत्नी और राज्यसभा सांसद तंजीम फातिमा भी कूद पड़ी हैं। उन्होंने इस मामले में बेटे पर कार्रवाई होते देख एक पत्र जिला निर्वाचन अधिकारी और पुलिस अधीक्षक को लिखकर अपनी नाराजगी जाहिर की है।

एफआईआर दर्ज करवाई

दरअसल, दूसरे चरण के मतदान के बाद सपा के कद्दावर नेता आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम के खिलाफ जानलेवा हमले के आरोप में एक एफआईआर दर्ज करवाई गई है। इस बीच अब्दुल्ला आजम के समर्थकों ने भी नावेद मियां के बेटे हमजा अली खान के खिलाफ आगजनी करने बंधक बनाने और जान से मारने के प्रयास के आरोप में एक एफआईआर दर्ज करवाई। वहीं हमजा अली के पिता नावेद मियां जो कि स्वार टांडा विधानसभा से विधायक हैं और बसपा के प्रतियाशी भी हैं। उन्होंने भी इस मामले पर एसपी से मिलकर मुरादाबाद सीओ आले हसन के बेटे समेत 200 सपाइयों पर रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

Image may contain: text

प्रतिष्ठा दांव पर है

दरअसल स्वार विधानसभा सीट पर साल 2012 में कांग्रेस से विधायक थे। अब बसपा के टिकट पर प्रतियाशी हैं। नावेद मियां जो कि नवाब परिवार की बेगम नूरबानों के बेटे हैं। इसी विधानसभा सीट से सपा के कद्दावर नेता आजम खान साहब ने अपने बेटे को चुनाव मैदान में उतारा है। इलाके की जनता के लिए दोनों बड़े चेहरे हैं, इसलिए दोनों की प्रतिष्ठा दांव पर है। चुनाव से पहले भी सपा के अब्दुल्ला आजम ने बसपाइयों पर मारपीट का आरोप लगाया था। साथ ही कई लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज भी हुई, लेकिन अब मतदान के बाद दोनों तरफ से मारपीट और आगजनी के आरोप में स्वार कोतवाली में एफआईआर दर्ज हुई है।

आजम खान की पत्नी का खत

बेटे को फंसता देश अब्दुल्ला आजम की मां और कद्दावर नेता आजम खान की पत्नी जो कि राज्यसभा सांसद हैं। उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी और पुलिस अधीक्षक को एक पत्र भेजा है। पत्र में  नाराजगी जताते हुए कहा है कि प्रशासन पक्षपात कर रहा है। इसके बाद एसपी केशव चौधरी ने कहा कि ऐसा नहीं हैं हमने दोनों तरफ से तहरीर लेकर एफआईआर दर्ज कर ली है। वहीं विवेचना जारी है।

आरोप में एफआईआर दर्ज

कोतवाली स्वार में दोनों की तरफ में जानलेवा हमले के आरोप में एफआईआर दर्ज है। जबकि मतदान से पहले अब्दुल्ला आजम ने एक रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। जिसमें उन्होंने बसपाइयों पर आरोप लगाया था कि स्वार टांडा के विधायक ने अपने गुंडों से हमारे समर्थकों पर अटैक करवा दिया। कई लोग चोटिल हुए हैं। अभी 4 दिन नहीं बीते कि दोनों तरफ से फिर तलवारे खिंची दिखी।

बंधक बनाने की सूचना

रामपुर के एसपी केशव चौधरी ने आगे कहा कि सही बात यह भी है कि मतदान के दिन कहीं आगजनी और बंधक बनाने की सूचना किसी के पास नहीं थी लेकिन अब दोनों तरफ से आरोप प्रत्यारोप की तहरीर दी जा रही है तो मामले की गंभीरता से जांच करवाई जा रही है। जांच में जो सही निकलकर आएगा। उस पर बड़े स्तर पर कार्रवाई होगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned