रामपुर में अनजाने युवाओं के जमाड़े पर स्थानीय लोगों में दहशत का माहौल, इस तरह की भी है अफवाह, देखें वीडियो

Noida, Uttar Pradesh, India
  रामपुर में अनजाने युवाओं के जमाड़े पर स्थानीय लोगों में दहशत का माहौल, इस तरह की भी है अफवाह, देखें वीडियो

उत्तर प्रदेश के जिला रामपुर में 2 दिन से सोशल मीडिया वॉट्सऐप और फेसबुक पर लगातार एक मैसेज वायरल हो रहा है, जिससे रामपुर में दहशत फैल गई है।

रामपुर. उत्तर प्रदेश के जिला रामपुर में 2 दिन से सोशल मीडिया वॉट्सऐप और फेसबुक पर लगातार एक मैसेज वायरल हो रहा है, जिससे रामपुर में देशात फैल गई है। दरसल मेसेज में लिखा है कि रामपुर में हज़ारों की संख्या में संधिग युवकों ने डेरा डाला है और वो भीषण दंगे की तैयारी कर रहे हैं। यह युवक बाहरी जनपदों से आए हुए हैं। इस मामले में स्थानीय प्रशासन भी बेखबर है और न ही खुफिया एजेंसीयों को ही इस बाबत कोई जानकारी है। इस वायरल मेसेज को लेकर रामपुर के नेताओ में भी हड़कम मच गया है। सपा के कद्दावर नेता आजम खान ने अपने मीडिया प्रभारी फसाहत अली शानू से एक ऑडियो जारी करवाकर एसपी और डीएम से मामले की जांच करने की अपील की है। उन्होंने अपने बयान में कहा है कि रामपुर हमारा है और यहां कोई भी माहौल खराब करने की कोशिश न करे। इसे हम बर्दाश्त नही करंगे। अगर अफवाह सही है तो प्रशासन जांच कर उनकी आईडी चेक करें और लोगो को सही जानकारी दी जाए।


इस मामले में हमारी टीम ने पड़ताल की तो पता लगा कि मैजेस जो वायरल किया जा रहा है। कुछ हद तक ठीक है। रामपुर में भारी युवक तो आए हैं। यहां करीब एक महीने से रामपुर में उनकी संख्या बढ़ती जा रही है। यह युवक किसी कॉस्मेटिक कम्पनी की मार्केटिंग की ट्रेनिंग के लिए आना बता रहे हैं। हालांकि, दूसरी बात यह सामने आई है कि यह लोग किसी ख़ास काम के लिए रामपुर आए हुए हैं। पत्रिका संवाददाता ने जब इन लोगों से बात की तो इन्होंने किस्मेटिक की मार्किटिंग की ट्रेनिंग लेना स्वीकार किया है। 


जन्नत इंटरप्राइजेज ग्लाज़े ट्रेडिंग इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के नाम से सेंटर  कोतवाली सिविल लाइन क्षेत्र के नैनीताल रोड पर चल रहा है, जिसमें बरेली गेट, पहाड़ी गेट, कांशीराम कोलोनी, पीला तालाब और खजान खान के कुंए जैसे शहर के बाहरी मोहल्लों में पिछले काफी दिन से अजनबियों का जमावड़ा लग रहा है। युवक न केवल बाहरी हैं, बल्कि स्थानीय आबादी से मेल भी नहीं खा रहे है। फिर भी मुस्लिम बाहुल्य मोहल्लों में मूंह मांगी दरों पर मकान और कमरे किराए पर लेकर यह युवक रुके हुए हैं।


इनकी गतिविधियां संदेह के घेरे में उस समय आई, जब लोगों ने इनसे रामपुर आकर रहने का कारण पूछा तो अलग अलग जगह पर अलग अलग कारण बताये गए! किसी ने कोस्मेटिक कम्पनी की मार्केटिंग की ट्रेनिंग के लिए आना बताया तो किसी ने ज़री का काम सीखने आने की बात कही। बरहाल यह वायरल मेसेज रामपुर के लोगों के मोबाइल वॉट्सऐप ओर फ़ेसबुक पर आग की तरह पहल रहा है, जो रामपुर में दहशत फेहला रहा है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned