उपभोक्ताओं ने बिजली कार्यालय घेर की नारेबाजी

Morena, Madhya Pradesh, India
उपभोक्ताओं ने बिजली कार्यालय घेर की नारेबाजी

कंपनी द्वारा उपभोक्ताओं को मीटर रीडिंग से बढ़ा हुआ आकलित खपत का बिल पहुंचाया गया है, जिससे आक्रोशित उपभोक्ताओं ने मंगलवार को बिजली कार्यालय पहुंचकर कार्यालय का घेराव किया और जमकर नारेबाजी की

मुरैना. बिजली कंपनी द्वारा उपभोक्ताओं को मीटर रीडिंग से बढ़ा हुआ आकलित खपत का बिल पहुंचाया गया है, जिससे आक्रोशित उपभोक्ताओं ने मंगलवार को बिजली कार्यालय पहुंचकर कार्यालय का घेराव किया और जमकर नारेबाजी की। उपभोक्ताओं द्वारा हंगामा किए जाने पर बिजली कर्मचारी एक-एक अपनी कुर्सियों से उठकर चले गए। लेकिन जेई ने बिल संसोधन की समझाईश के बाद उपभोक्ता माने।


इस दौरान एक घंटे तक बिजली कार्यालय पर उपभोक्ताओं ने हंगामा किया।आकलित बिलों से परेशान व घेराव कर रहे उपभोक्ता रमेश गुप्ता,लोकेन्द्र यादव, देवेन्द्र जाटव, कल्लोबाई व सोरा देवी जाटव ने बताया कि बिजली कंपनी द्वारा आकलित बिल की खपत के नाम पर लूटा जा रहा है।


उन्होंने आरोप लगाया कि बिजली कंपनी के  मीटर रीडर पैसे लेकर मनमानी रीडिंग नोट कर अनाप शनाप बिल भेज रहे है तथा कंपनी में शिकायत करने पर लोड चेक करने की धमकी देकर उपभोक्ताओं को परेशान किया जा रहा हैं। यही नहीं जब लोड चेक करने के लिए आवेदन दिया जाता है उसे रद्दी की टोकरी में फेंक दिया जाता है।


 बिजली कंपनी मनमाने तरीके से आकलित बिल के नाम पर हजारों रुपए का बिल भेज रही है। इस दौरान सैकड़ों की संख्या में मौजूद उपभोक्ताओं ने बढ़े हुए बिजली के बिल भी कार्यालय पर लहराए। उपभोक्ताओं को आक्रोशित देखकर अधिकतर बिजली कर्मचारी अपनी कुर्सियों से एक एक कर उठकर चले गए।


इस दौरान बाद प्रबंधक राहुल गुप्ता ने मौके पर पहुंचकर उपभोक्ताओं को समझाईश दी। उन्होंने कहा कि मीटर रीडरों की शिकायत मिल रही थी सभी पुराने रीडरों को हटा दिया गया है। मेरी अभी नई पोस्टिंग हुई है जानकारी मिलने पर सभी उपभोक्ताओं की शिकायतों का निराकरण किया जाएगा। पूर्व रीडर पैसे लेकर कम बिल भेजते थे इसलिए रीडिंग चेक कराकर बिल भेजे हैं इसलिए ज्यादा राशि के बिल आए हैं।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned