हादसे में पिता की मौत, बेटे ने कलेक्ट्रेट पर लगाया जाम

Moreno, Buenos Aires Province, Argentina
हादसे में पिता की मौत, बेटे ने कलेक्ट्रेट पर लगाया जाम

खडिय़ाहार व जिला अस्पताल में समुचित उपचार न दिए जाने का लगाया आरोप

मुरैना. खडिय़ाहार में बाइक की टक्कर से घायल हुए वृद्ध की मौत के बाद उसके बेटे ने कलेक्ट्रेट के सामने जाम लगा दिया। शव को स्ट्रेचर पर रखकर यातायात रोकने वाले व्यक्ति का आरोप था कि उसके घायल पिता को न तो खडिय़ाहार में उपचार मिला न जिला अस्पताल में, जिसके कारण उनकी मौत हो गई।



Image may contain: 1 person, crowd and outdoor
ग्राम चौकियाई निवासी रामवीर सिंह गुर्जर अपने घायल पिता माताप्रसाद गुर्जर (70) को सोमवार की सुबह उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया था, लेकिन यहां उनकी मौत हो गई। इसके बाद रामवीर व उसके अन्य परिजन माताप्रसाद के शव को स्ट्रेचर पर रखकर कलेक्ट्रेट के गेट पर पहुंचे और सड़क पर जाम लगा दिया। मृतक के परिजन का आरोप था कि हादसे में घायल होने के बाद वह अपने पिता को सबसे पहले खडिय़ाहार स्थित स्वास्थ्य केन्द्र ले गया, लेकिन वहां डॉक्टर ही मौजूद नहीं था। इसके बाद उसने कॉल करके डायल 100 वाहन बुलाया और पिता को जिला अस्पताल लाया, लेकिन यहां भी डॉक्टरों ने ठीक से उनका उपचार नहीं किया। इसलिए कुछ ही देर बाद उनकी मौत हो गई। रामवीर ने पुलिस पर भी इस मामले में लापरवाही का आरोप लगाया। बकौल रामवीर हादसे के बाद उसने थाना प्रभारी को कॉल किया, लेकिन उधर से फोन रिसीव ही नहीं किया गया। कलेक्ट्रेट के सामने तकरीबन आधा घंटे तक जाम लगा रहने के बाद सीएसपी एसएस तोमर, कोतवाली टीआई योगेन्द्र सिंह जादौन व स्टेशन रोड थाना प्रभारी भूमिका दुबे वहां मय फोर्स पहुंचीं और मृतक के परिजन को समझाने का प्रयास शुरू कर दिया। इसी बीच एसडीएम प्रदीप तोमर भी मृतक के परिजन से मिले। उन्होंने इस मामले में उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। तब कहीं एमएस रोड पर यातायात व्यवस्था सामान्य हो सकी।

बाइक ने मारी थी टक्कर
चौकियाई निवासी वृद्ध माताप्रसाद गुर्जर को खडिय़ाहार गांव में एक बाइक ने टक्कर मारी थी। उनके बेटे रामवीर ने बताया कि पिताजी के बहनोई का देहांत हो गया था। इसलिए वे फेरा करने गोरमी जा रहे थे। इसी दौरान खडिय़ाहार में एक बाइक चालक ने उन्हें टक्कर मार दी। मृतक के परिजन का कहना था कि माताप्रसाद को माता का पुरा के रहने वाले भूरा नामक युवक ने बाइक से टक्कर मारी, इसलिए उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

बड़ी संख्या में पहुंची पुलिस
कलेक्टे्रट के सामने शव रखकर जाम लगाने की सूचना पाकर बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचा था। वजह शायद यह थी कि शनिवार की शाम भी हादसे के बाद हाईवे पर ग्रामीणों द्वारा जाम लगाने के दौरान हालात बेकाबू हो गए थे। उग्र भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया था तो जवाब में पुलिस ने आंसू गैस छोड़ी और लाठीचार्ज करना पड़ा। वैसी ही स्थिति न बने, इसलिए  पुलिस ने मृतक के परिजन को समझाकर जाम खुलवा दिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned