शिक्षाकर्मी संघ ने भरी हुंकार करेंगे राज्योत्सव का बहिष्कार

Kajal Kiran Kashyap

Publish: Oct, 19 2016 10:46:00 (IST)

Mungeli, Chhattisgarh, India
शिक्षाकर्मी संघ ने भरी हुंकार करेंगे राज्योत्सव का बहिष्कार

संघर्ष समिति एवं एकता मंच के पदाधिकारियों ने मांगों को लेकर एक जुट होकर संघर्ष करने की घोषणा की।

मुंगेली. पदोन्नति, क्रमोन्नति व समयमान वेतमान को लेकर नाराज शिक्षाकर्मी राज्योत्सव का बहिष्कार करेंगे। वहीं 1 नवम्बर को वे राजधानी में बड़ा प्रदर्शन करेंगे। शिक्षाकर्मियों की मांगो में संविलियन, क्रमोन्नति, वेतनमान, समयमान, सातवां वेतनमान, पुनरीक्षित, वेतनमान की अवधि की समय सीमा समाप्त करने, गतिरोध एवं चिकित्सा भत्ता शुरू करने व अप्रिशिक्षित शिक्षक पंचायत संवर्ग की समस्या प्रमुख है। इन मांगों को लेकर शिक्षा कर्मियों के विभिन्न संगठनों की संयुक्त बैठक को हुई। संघर्ष समिति एवं एकता मंच के पदाधिकारियों ने मांगों को लेकर एक जुट होकर संघर्ष करने की घोषणा की। शिक्षक(पंचा.) समन्वय समिति के संचालक सदस्य वीरेन्द्र दुबे ने बताया कि मांगों के सम्बंध में कई सालों से राज्य शासन की अनदेखी और केवल आश्वासन से समस्त शिक्षक पंचायत में नाराजगी है। अलग-अलग के बजाए इस बार सभी संघों ने एक साथ संघर्ष करने की सहमति जताई।

1 नवम्बर को राजधानी में स्पोटर्स काम्प्लेक्स के सामने राज्य स्तरीय धरना-रैली का आयोजन किया जाएगा। मुंगेली जिले के सभी पदाधिकारियों ने सभी शिक्षक पंचायत संवर्ग को धरना एवं रैली में शामिल होने का आह्वान किया है। इस दौरान एमएन कोसरिया, नरेन्द्र तिवारी, नंद कुमार पाटले, नेमीचंद भास्कर, अनिल ठाकुर, मोहन उपाध्याय, रितेश पाण्डेय, राधेश्याम राय, संजय साहू, मोहन कश्यप व उत्तम ध्रुव आदि मौजूद रहे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned