साइबर क्राइम: अगर आप भी हुए हैं ठगी का शिकार तो पैसे की वापसी के लिए तुरंत करें ये काम

Noida, Uttar Pradesh, India
साइबर क्राइम: अगर आप भी हुए हैं ठगी का शिकार तो पैसे की वापसी के लिए तुरंत करें ये काम

साइबर सेल ने शिकायत मिलते ही ठगों के मुंह से निकाली आठ पीड़ितों की रकम

नोएडा. अगर समय पर सूचना मिले तो साइबर क्राइम के जरिये ठगी के शिकार लोगों का रुपया भी वापस मिल सकता है। इसका ताजा उदाहरण है नोएडा पुलिस की साइबर क्राइम सेल द्वारा आठ लोगों का 1,32,490 रुपये वापस कराना। दरअसल आठ पीड़ितों की ये रकम साइबर ठगों ने उनके खाते से चुराई थी। यहां बता दें कि साइबर क्राइम सेल को इस वर्ष जनवरी से मार्च तक कुल 671 शिकायतें प्राप्त हुई हैं। इसमें से 163 शिकायतें केवल मार्च में मिली हैं।

यह भी पढ़ें- आप चाहें तो छोड़ सकते हैं शराब, मुफ्त में मिलती है दवा

रुपये निकलते ही पुलिस को दी थी शिकायत

साइबर क्राइम सेल प्रभारी निरीक्षक विवेक रंजन ने बताया कि सेल को मार्च में आठ लोगों द्वारा उनके खाते से कुल 1,54,140 रुपये साइबर ठगों द्वारा निकालने की शिकायत मिली थी। इन लोगों ने बिना देर किए रुपये निकलने का पता लगते ही साइबर क्राइम सेल को घटना की जानकारी दी। इस वजह से इनके 1,32,490 रुपये साइबर सेल द्वारा इनके खाते में वापस कराने में सफलता मिली है।

यह भी पढ़ें- एनजीटी ने श्रीश्री रविशंकर को लगाई फटकार, जिम्‍मेदारी पर भी उठाए सवाल

ठगों से एेसे वापस निकाले रुपये

जिन लोगों के ठगी के रुपये पुलिस ने वापस दिलाए हैं। वह कोर्इ ज्यादा पढ़े लिखे तो नहीं हैं, लेकिन उनकी सूचना समय पर और सटीक होने के चलते आज इन्हें उनकी मेहनत का रुपया वापस मिल सका है। जिन लोगों का रुपया वापस मिला है। उनमें बरौला के ओमवीर सिंह के पीएनबी के खाते से 39,650 रुपये निकले थे। इनकी 18000 रुपये की रकम वापस कराने में सफलता मिली है। इसी तरह सेक्टर-10 निवासी प्रसून कुमार के आईसीआईसीआई बैंक खाते से 19990 रुपये, ग्रेटर नोएडा के अल्फा-दो निवासी दीपलता के बैंक ऑफ बड़ौदा के खाते से 6000 रुपये, छलेरा निवासी रजनी सैनी के इलाहाबाद बैंक के खाते से 20 हजार रुपये, भंगेल निवासी ऊषा पाल के खाते से 16000 रुपये, सेक्टर-12 निवासी चरणजीत के एसबीआई बैंक खाते से 20 हजार रुपये, सेक्टर-18 में काम करने वाले सगीर आलम के पेटीएम वॉलेट से 12500 रुपये और सेक्टर-78 निवासी कुलमणी के खाते से 20 हजार रुपये निकले थे। इन पीडि़तों की पूरी रकम साइबर क्राइम सेल ने इनके खाते में वापस करा दी है। साइबर सेल के अनुसार खाते से पैसे निकलने के मामले में तत्काल शिकायत मिलने पर पीडि़त की रकम वापस मिलने की संभावना 60 फीसदी से ज्यादा होती है।

यह भी पढ़ें- पहले ताऊ ने किया गंदा काम, फिर पति ने दोस्‍तों संग पार की सारी हदें

साइबर सेल को प्राप्त शिकायतें

सोशल मीडिया इस वर्ष    

फेसबुक 74

व्हाट्स एप 05

आपत्तिजनक फोन या मैसेज 08

अन्य शिकायतें 78

फाइनेंशियल फ्रॉड संबंधी शिकायतें

नौकरी के बहाने 47

डेबिट/क्रेडिट कार्ड 132

लॉटरी/मोबाइल टॉवर/बीमा 318

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned