सोशल ट्रेड कंपनी के मालिक पहुंचे सलाखों के पीछे

Noida, Uttar Pradesh, India
सोशल ट्रेड कंपनी के मालिक पहुंचे सलाखों के पीछे

ऑडियों क्लिप में बोला आरोपी, बेशर्म इंसान हूं हर हाल में अपना सिस्टम चला कर रहूंगा

नोएडा। सोशल ट्रेडिंग के नाम पर 3700 करोड़ के घोटाले के बाद 500 करोड़ रुपए की ठगी का मामला पकड़ा गया। वेबवर्क नाम की इस कंपनी का ऑफिस 15 फरवरी को सीज कर दिया गया था। आज 17 फरवरी को वेबवर्क का मालिक अनुराग गर्ग और संकल्प ग्रेटर नोएडा में एसएसपी से मुलाकात करने पहुंचे। एसएसपी ने पुलिस बुलाकर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करा दिया। कोर्ट में पेश कर दोनों को जेल भेज दिया गया है। इनके खिलाफ कई लोगों ने शिकायत दर्ज कराई थी। आपको बता देें कि पिछले कुछ दिनों में कुछ कंपनियों के सोशल ट्रेड स्कैम सामने आए हैं।

ऑफिस के साथ खाते भी सीज

नोएडा पुलिस के सेंटर फॉर साइबर क्राइम इनवेस्टिगेशन सेंटर (सीसीसीआई) की टीम और सेक्टर-20 पुलिस ने ऑफिस को सील किया। इस कार्रवाई में पुलिस ने कंपनी के सभी कंप्यूटर और लैपटॉप भी अपने कब्जे में ले लिए हैं। डाटा मैपिंग की जा रही है और दस्तावेजों की जांच चल रही है। इससे पहले नोएडा पुलिस ने वेबवर्क कंपनी के सेक्टर-18 स्थित दो बैंकों में चल रहे चार खाते भी सीज कर दिए थे। पुलिस के मुताबिक सेक्टर-2 के डी-57 में स्थित वेबवर्क ट्रेड लिंक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के एमडी अनुराग गर्ग और संदेश वर्मा के आईसीआईसीआई, एचडीएफसी, सिटी बैंक और यस बैंक के खाते सीज किए गए हैं।

ऑडियो क्लिप में रोया रोना

इससे पहले अनुराग गर्ग ने ऑडियो क्लिप बना अपनी मजबूरी का रोना रोया। ये ऑडियो क्लिप सभी निवेशकों को भेजी गई। इसमें कहा गया कि मेरे कंप्यूटर जब्त कर लिए गए हैं, लेकिन बेशर्म इंसान हूं हर हाल में अपना सिस्टम चला कर रहूंगा। 20 से 25 दिन में पैसे लौटाने का भरोसा भी दिया गया है। आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों से सोशल ट्रेडिंग स्कैम सामने आ रहे हैं। जिससे उन लोगों को तकलीफों सामना करना पड़ रहा है। कई लोगों को हजारों रुपया फंस चुका है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned