नोएडा के जेपी हॉस्पिटल ने 4 माह के पाकिस्तानी शिशु को दिया नया जीवनदान

Noida, Uttar Pradesh, India
 नोएडा के जेपी हॉस्पिटल ने 4 माह के पाकिस्तानी शिशु को दिया नया जीवनदान

पाकिस्‍तानी पिता ने सुषमा स्वराज को दिया धन्यवाद, भारतीय डॉक्‍टर्स को बताया बेस्‍ट

राहुल चौहान/नोएडा. शहर के प्रसिद्ध अस्‍पताल जेपी हॉस्पिटल में पाकिस्तान से एक 4 महीने के शिशु रोहन को नया जीवनदान मिला है। जिसे ह्रदय की गंभीर बीमारी थी। इस बच्चे को जेपी हॉस्पिटल में 12 जून को एडमिट किया गया था और उसकी सर्जरी 14 जून को की गई। सर्जरी में कुल 5 घंटे का समय लगा। अब बच्चा बिलकुल ठीक है और उसे वार्ड में भी शिफ्ट कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें-  40 कावड़ियों से भरा वाहन नहर में गिरा, एक की मौत, पांच गंभीर

दरअसल रोहन लाहौर निवासी कंवल सादिक का बेटा है और इन्हें काफी समय से भारत आने के लिए वीजा नहीं मिल रहा था। जिसके बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की सहायता से इन्हें वीजा मिल पाया। इसके बाद रोहन को भारत लाया गया और उसका इलाज नोएडा के सेक्टर 128 स्थित जेपी हॉस्पिटल में विश्व प्रसिद्ध डॉक्टर राजेश शर्मा ने किया।

JP Hospital Noida

ह्रदय रोग सर्जन डॉक्टर राजेश शर्मा ने बताया की रोहन को ह्रदय की गंभीर बीमारी थी। उसके दिल में छेद था और ह्रदय की बाई तरफ वाली आंत दाई तरफ आ रही थी। वहीं 'पल्मोनरी आर्टेरिएस' बाई तरफ आ रही थी। ये शरीर की सामान्य संरचना से बिलकुल उलट था। बच्चे के शरीर में बिना ऑक्सीजन वाला खून प्रवाहित हो रहा था, जिससे उसका शरीर नीला पड़ गया था। उन्होंने बताया कि इस बीमारी को 'द-ट्रांस्पोसिशन ऑफ ग्रेट आर्टरीज विथ अबमोरमल विथ एब्नार्मल ओरिजिन ऑफ मैं आर्टरीज फ्रॉम अपोजिट चैम्बर्स विथ मल्टीपल वसद एंड सीवियर पल्मोनरी हायपरटेंसिव' कहते हैं।

JP Hospital Noida

रोहन के पिता ने कहा, भारतीय डॉक्टर सबसे बेस्‍ट

रोहन के पिता कंवल सादिक ने कहा कि अब हम सब बहुत खुश हैं। भारत ने हमारी टूटती हुई उम्‍मीदों को नया जीवनदान दिया है। भारतीय डॉक्टर सबसे बेस्ट हैं। वहीं उन्‍होंने सुषमा स्वराज को धन्यवाद देते हुए कहा कि अगर आज वो न होती तो हम यहां नहीं होते। इसी के साथ उन्होंने सुषमा स्वराज से आग्रह किया कि सभी बीमार पाकिस्तानियों के इलाज लिए भारत के दरवाजे खोले जाएं।

यह भी पढ़ें- सहारनपुर में कांवड़ यात्रा के दौरान भोले के खिलाफ मुकदमा दर्ज

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned