मुलायम समर्थकों की बड़ी मांग, अखिलेश ही हो यूपी के सीएम

Noida, Uttar Pradesh, India
मुलायम समर्थकों की बड़ी मांग, अखिलेश ही हो यूपी के सीएम

जानिए और क्या-क्या कहा मुलायम समर्थकों ने

नोएडा। चुनाव आयोग में जिस तरह से पिता मुलायम और पिता अखिलेश के बीच घमासान चल रहा है, उससे मुलायम के समर्थक काफी आहत हैं। मुलायम के साथ आए समर्थकों ने साफ कर दिया कि उत्तर प्रदेश के सीएम समाजवादी पार्टी की ओर से अखिलेश यादव ही बने और मुलायम सिंह यादव राष्ट्रीय अध्यक्ष भी बने। आपको बता दें कि चुनाव आयोग में अखिलेश खेमा अपना पक्ष रख चुका है। अब लंच के बाद मुलायम के साथ सुनवाई शुरू हो गई है। शुक्रवार शाम तक दोनों के बीच स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।


अखिलेश ही बने यूपी के सीएम

चुनाव आयोग में मुलायम के समर्थन में आए सहारनपुर से पार्टी के एडवोकेट नईम अहमद ने कहा कि मुुलायम सिंह के यादव के नेतृत्व में अखिलेश यादव को चुनाव लड़ना चाहिए। दोनों के अलग-अलग चुनाव लड़ने से दोनों को ही नुकसान होगा। मुलायम सिंह यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष रहना चाहिए। इस बारे में जब पत्रिका से पूछा गया कि आखिर मुलायम को ही राष्ट्रीय अध्यक्ष क्यों होना चाहिए तो उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह ने पार्टी को जीरो से उठाया है। उन्होंने पैदल चलकर को उठाया है। उन्होंने कहा कि पिता पुत्र के अलग होने से समाजवादी विचारधारा को नुकसान होगा और संप्रदायिक ताकतों को फायदा होगा। ऐसे में दोनों को मिलकर चुनाव लड़ना चाहिए। अखिलेश यादव विकास पुरुष के रूप में उभरे हैं। उन्होंने प्रदेश में काफी काम कराया है। ऐसे में जनता के बीच वो काफी लोकप्रिय है। समाजवादी पार्टी का वो ही चेहरा हैं।


मुलायम के बिना पार्टी अधूरी

वहीं पार्टी कार्यकर्ता हाजी शाहिद हसन का कहना है कि अखिलेश यादव ने प्रदेश का काफी विकास किया है। आने वाले चुनावों में वो सीएम पद के सबसे बड़े दावेदार भी हैं। हमें पूरा भरोसा है कि वो प्रदेश का और भी बेहतर विकास भी करेंगे। लेकिन मुलायम के आशीर्वाद के साथ ये सब हो तो बेहतर होगा। उन्होंने 40 सालों में पार्टी को यहां तक पहुंचाया है। उन्होंने पार्टी को यहां तक लाने में काफी मेहनत भी की है। उन्होंने पार्टी के लिए जो किया है वो आज तक किसी भी नेता नहीं किया है। इसलिए जब तक वो है तब तक उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष रहना चाहिए। उनके बिना पार्टी पूरी तरह से अधूरी है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned