फुटबॉल में हेडर से ब्रेन को खतरा!

Mukesh Sharma

Publish: Feb, 16 2017 11:31:00 (IST)

Opinion
फुटबॉल में हेडर से ब्रेन को खतरा!

यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के एक नए शोध में से पता चला है कि पेशेवर फुटबॉल खिलाडिय़ों में किए जाने वाले हेडर से

यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के एक नए शोध में से पता चला है कि पेशेवर फुटबॉल खिलाडिय़ों में किए जाने वाले हेडर से डिमेंशिया (स्मृतिलोप) की आशंका होती है। हालांकि, शौकिया फुटबॉल खेलने में इसका खतरा बहुत कम  होता है। शोध में पता चला कि पूर्व बॉक्सरों में जो परिवर्तन पाया जाता है, वही बदलाव यहां भी  हैं। ये बदलाव लगातार दिमाग के चोटिल होने के कारण आते हैं और इसे सीटीई कहा जाता है। सीटीई का संबंध याद्दाश्त खोने और अवसादग्रस्त होने से  है। इस शोध के बाद फुटबाल और डेमेंशिया के बीच संबंधों को लेकर बहस छिड़ गई है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned