मास्सटर ब्लास्टर  सचिन अब कबड्डी को देंगे नई पहचान

Other Sports
मास्सटर ब्लास्टर  सचिन अब कबड्डी को देंगे नई पहचान

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर केवल क्रिकेट के ही दिवाने नहीं हैं। क्रिकेट के साथ-साथ सचिन फुटबॉल, बैडमिंटन से तो पहले ही जुड़ चुके थें, अब सचिन कबड्डी से भी जुड़ चुके हैं। सचिन ने प्रो कबड्डी लीग में एक टीम खरीदी है। 

नई दिल्ली. मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर केवल क्रिकेट के ही दिवाने नहीं हैं। क्रिकेट के साथ-साथ सचिन फुटबॉल, बैडमिंटन से तो पहले ही जुड़ चुके थें, अब सचिन कबड्डी से भी जुड़ चुके हैं। सचिन ने प्रो कबड्डी लीग में एक टीम खरीदी है। पीकेएल का पांचवां संस्करण जुलाई से अक्टूबर के बीच खेला जाना है। इस सीजन में लीग में चार नई टीमें जुड़ी है। सचिन ने कारोबारी एन. प्रसाद के साथ मिलकर तमिलनाडु के चेन्नई की फ्रेंचाइजी आईक्वेस्ट एंटरप्राइजेज लिमिटेड खरीदी है। अब मास्टर-ब्लास्टर के फैन उन्हें कबड्डी-कबड्डी पुकारते देखेंगे। 

शामिल हुई चार नई टीम 
प्रो कबड्डी लीग में 4 नई टीमें शामिल हो गई हैं। इन चार टीमों में चेन्नई, अहमदाबाद, लखनऊ और हरियाणा शामिल हैं। सचिन ने चेन्नई की टीम को पार्टनरशिप पर खरीदा है। जबकि बाकी तीन फ्रेंचाइजियों में अदानी विल्मर लिमिटेड ने गुजरात के अहमदाबाद की, जीएमआर ग्रुप ने उत्तर प्रदेश के लखनऊ की और जेएसडब्ल्यू स्पोट््र्स ने हरियाणा स्थित फ्रेंचाइजी खरीदी है। 

अब 12 टीमों के बीच होगा मुकाबला 
कबड्डी लीग में पहले से आठ टीमें थी। इन चार नई टीमों के आ जाने के बाद अब इस लीग में टीमों की स्ंख्या 12 हो गई है। पहले की आठ फ्रेंचाइजियां दिल्ली, मुंबई, बेंगलूरु, कोलकाता, हैदराबाद, पटना, पुणे और जयपुर है। 

फुटबॉल और बैडमिंटन की लीग टीमों में है सचिन की हिस्सेदारी 
सचिन इंडियन सुपर लीग फुटबॉल टूर्नामेंट (आईएसएल) में केरल ब्लास्टर्स के सह मालिक हैं। साथ ही प्रीमियर बैडमिंटन लीग में बेंगलूरु ब्लास्टर्स फ्रेंचाइजी के सह मालिक है। पीकेएल में चार नई टीमों का स्वागत करते हुए स्टार इंडिया के चेयरमैन और सीईओ उदय शंकर ने कहा, हम अपने मिशन कबड्डी में देश के बेहतरीन कॉरपोरेट को जोड़कर खुशी महसूस कर रहे हैं। हमारा मानना है कि मौजूदा फ्रेंचाइजियों की मदद से हम इस खेल को पूरी तरह बदल देंगे। इतने बड़े कॉरपोरेट््स ने जिस तरह से इस खेल में दिलचस्पी दिखाई है, वह कबड्डी की ताकत को दिखाता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned