केदारनाथ यात्रा: घोड़े-खच्चर संचालकों की मनमानी यात्रियों पर पड़ रही भारी

Sunil Sharma

Publish: May, 05 2017 02:14:00 (IST)

Pilgrimage Trips
केदारनाथ यात्रा: घोड़े-खच्चर संचालकों की मनमानी यात्रियों पर पड़ रही भारी

गौरीकुंड में यात्रियों की इतनी भरमार है कि पांव रखने तक की जगह नहीं है

केदारनाथ यात्रा का विधिवत शुभारंभ हो गया है। अधिकांश यात्री पैदल मार्ग के जरिये बाबा केदारनाथ के दर्शनों के लिये जा रहे हैं। गौरीकुंड में यात्रियों की इतनी भरमार है कि पांव रखने तक की जगह नहीं है। एक दिन में हजारों घोड़े-खच्चर गौरीकुंड से केदारनाथ आवागमन कर रहे हैं, लेकिन इन घोड़े-खच्चरों पर किसी का नियंत्रण नहीं हैं। मनमर्जी से संचालक घोड़े-खच्चरों को पैदल मार्ग पर दौड़ा रहे हैं।

स्थिति यह है कि घोड़े-खच्चर संचालक पैदल चलने वाले यात्रियों तक के लिये जगह नहीं छोड़ रहे हैं। ऐसे में यात्रियों को भारी दिक्कतों से जूझकर पैदल मार्ग पर सफर करना पड़ रहा है। यात्रा के शुरूआती दौरे में कई घोड़े-खच्चर बिना रजिस्ट्रेशन के ही चल रहे हैं। ऐसे में कई बार घोड़े-खच्चर संचालक यात्रियों को बीच रास्ते से मनमाने किराए पर घोड़े में बैठा रहे हैं और आधे रास्ते में ही छोड़ रहे हैं। गौरीकुंड से केदारनाथ तक घोड़े-खच्चर का किराया 16 सौ निर्धारित है, लेकिन कई संचालक इससे अधिक किराया यात्रियों से वसूल रहे हैं।

सूत्रों के अनुासार रास्ते में जब यात्री घोड़े-खच्चर संचालकों से धीरे चलने के लिये कह रहे हैं तो, संचालक यात्रियों के साथ अभद्रता कर रहे हैं। यात्रा के पहले ही दो दिन घोड़े-खच्चर संचालकों की कई शिकायतें सामने आ गई हैं, लेकिन शिकायतों पर किसी ने ध्यान नहीं दिया है। सूत्रों के अनुासार दो मई को लिनचैली से कुछ तीर्थ यात्रियों ने केदारनाथ तक दो-दो हजार में घोड़े-खच्चर बुक कराए, लेकिन संचालकों ने यात्रियों को केदारनाथ से दो किमी पीछे ही बेस कैंप में उतार दिया। इतना ही संचालक पूरे पैंसे न देने पर यात्रियों को धमकी देने लेंगे। विरोध होने पर अन्य यात्री बीच में आए, जिसके बाद मामला शांत हो पाया।

यात्रा के पहले ही दिन पैदल मार्ग पर घोड़े-खच्चरों से धक्का लगने के कारण कई यात्री चोटिल हुए। जिलाधिकारी रंजना वर्मा की माने तो पैदल मार्ग पर यात्रियों को दिक्कतें नहीं होने दी जाएंगी। यदि घोड़े-खच्चर संचालक मनमानी कर रहे हैं तो, उनकी मनमानी पर रोक लगा दी जाएगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned