भाजपा के गढ़ में मुस्लिम मतदाताओं ने बदली रणनीति, इन्हें मिला साथ 

Santosh Pandey

Publish: Feb, 17 2017 03:14:00 (IST)

Pilibhit, Uttar Pradesh, India
भाजपा के गढ़ में मुस्लिम मतदाताओं ने बदली रणनीति, इन्हें मिला साथ 

विधानसभा क्षेत्रों में मतदाताओं से जानी राय, बदलेगा जिले का राजनीतिक समीकरण  

पीलीभीत। जिलेे में कुल चार विधानसभा सीटें हैं जिसमें तीन पर सपा और एक पर भाजपा का कब्जा है। भाजपा नेता मेनका गांधी इसी सीट से सांसद हैं। इसबार के विधानसभा चुनाव में मुस्लिम मतदाताओं ने नई रणनीति बनाई है। मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में सैकड़ों मतदाताओं ने बताया कि इस बार उन्होंने काम करने वाली पार्टी को वोट किया है। राजनीतिक जानकारों की माने तो इस बार के चुनाव में यहां एक पार्टी को बहुत नुकसान हुआ है। क्योंकि मुस्लिम मतदाताओं का इस बार वोट बंटा है। इस बार 20 प्रतिशत मुस्लिम मतदाताओं का वोट बंटा है। 

इन सीटों पर इनका कब्जा 

पीलीभीत सदर सीट से सपा के रियाज अहमद तीन बार से विधायक है। तीनों विधानसभा चुनावों में इनकी लड़ाई भाजपा और बसपा से थी। 

बरखेड़ा विधानसभा के मुस्लिम वोटरों का रूझान विभाजित हुआ। सपा-कांग्रेस गठबंधन से राज्यमंत्री हेमराज वर्मा को बसपा के डा शैलेन्द्र गंगवार ने टक्कर दी है। यहाॅ मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में चर्चाएं सपा-बसपा की ही है। इसके साथ ही रालोद के स्वामी प्रवक्तानंद को मुस्लिम वोटों की छींटे मिली है। 

बीसलपुर विधानसभा में कांग्रेस से गठबंधन के उम्मीदवार पूर्व मंत्री अनीस अहमद खान लड़ रहे है।  यहाॅ मुस्लिम वोटरों का बंटवारा हुआ है। 

पूरनपुर विधानसभा में गठबंध के प्रति झुकाव देखा गया। यहां भी त्रिको​णिय मामला है। भाजपा, बसपा और गठबंधन में टक्कर है। 












Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned