अरविंद केजरीवाल सपनों के व्यापारी : अजय माकन

Jameel Khan

Publish: Feb, 16 2017 06:07:00 (IST)

Political
अरविंद केजरीवाल सपनों के व्यापारी : अजय माकन

माकन ने कहा कि केजरीवाल दूसरों से खूब सवाल करते हैं, लेकिन जब सवाल उनसे किया जाए तो वह मुश्किल से जवाब देते हैं

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सपनों के व्यापारी हैं। वह अभी भी विपक्ष के अंदाज में नजर आते हैं। आप सरकार कई क्षेत्रों में लोगों की अपेक्षाओं को पूरा करने में विफल रही है। इसमें बुनियादी ढांचा, स्वास्थ्य और शिक्षा शामिल है। कांग्रेस की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष अजय माकन (53) ने एक साक्षात्कार में कहा कि कांग्रेस दिल्ली में फिर से उभार के रास्ते पर है और इस साल होने वाले नगर निगम चुनावों में बेहतर प्रदर्शन करेगी।

माकन ने कहा कि केजरीवाल दूसरों से खूब सवाल करते हैं, लेकिन जब सवाल उनसे किया जाए तो वह मुश्किल से जवाब देते हैं। माकन ने कहा, केजरीवाल को यह समझना चाहिए कि वह अब विपक्ष में नहीं हैं। वह दिन चले गए जब वह सवाल पूछने पर बच निकलते थे। उन्हें विपक्ष और लोगों के सवालों का जवाब देना चाहिए।

उन्होंने कहा कि केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) ने लंबे-चौड़े वायदों के बल पर और कांग्रेस के 15 सालों के कार्यों को नकार कर 2015 का विधानसभा चुनाव भारी बहुमत से जीता था। माकन ने कहा, केजरीवाल सपने दिखाकर सत्ता में आए। मैं उन्हें सपनों का व्यापारी कहता हूं। उन्होंने शीला दीक्षित की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार के कार्यों की झूठी आलोचना की।

उन्होंने कहा कि शहर बस सेवा डीटीसी की बसों की संख्या में बीते दो सालों में कमी आई है। बीते दो साल में एक भी फ्लाईओवर परियोजना शुरू नहीं हुई। कोई भी नया अस्पताल शुरू नहीं हुआ। आप सरकार ने अपनी कई परियोजनाओं की मंजूरी में देरी के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। इसमें दिल्ली विकास प्राधिकरण द्वारा अस्पतालों के लिए आवंटित होने वाली जमीन भी शामिल है।

माकन ने यह भी आरोप लगाया कि केजरीवाल सरकार ने डेंगू और चिकनगुनिया से जुड़े मामले में शहर के लोगों की समस्याओं का सही तरीके से जवाब नहीं दिया। मेट्रो रेल परियोजना के तीसरे चरण का जिक्र करते हुए माकन ने कहा कि पहली बार कॉरपोरेशन ने अपना काम पूरा करने की निर्धारित तिथि में चूक कर दी। कांग्रेस नेता ने कहा कि आप सरकार द्वारा लाया गया जन लोकपाल विधेयक 'कमजोरÓ है।

माकन ने कहा, उन्होंने कहा था कि वे भ्रष्टाचार खत्म कर देंगे, लेकिन क्या वादा पूरा किया गया? उनके बहुत से विधायकों और मंत्रियों पर पुलिस ने (कई आरोपों में) मामला दर्ज किया है। केंद्र सरकार और आप सरकार के बीच की लगातार चलने वाली तकरार को माकन ने इन दोनों के बीच की नूराकुश्ती करार दिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned