बाबरी विध्वंस केस : शीर्ष नेताओं के साथ BJP, PM मोदी ने की बैठक 

NICS Team

Publish: Apr, 19 2017 10:54:00 (IST)

Political
बाबरी विध्वंस केस : शीर्ष नेताओं के साथ BJP, PM मोदी ने की बैठक 

 बीजेपी के शीर्ष नेताओं के खिलाफ आपराधिक साजिश का मामला चलाने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर बीजेपी पूरी तरह से एकजुट है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आडवाणी से बात कर यह कहा कि पार्टी उनके साथ है। 

नई दिल्ली. लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती जैसे बीजेपी के शीर्ष नेताओं के खिलाफ आपराधिक साजिश का मामला चलाने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर बीजेपी पूरी तरह से एकजुट है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आडवाणी से बात कर यह कहा कि पार्टी उनके साथ है। साथ ही इस केस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वरिष्ठ मंत्रियों के साथ एक बैठक भी की। इस बैठक में वित्त मंत्री अरुण जेटली, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, सडक परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और सूचना एवं प्रसारण मंत्री एम वेंकैया नायडू आदि ने हिस्सा लिया। हालांकि बैठक से संबंधित विस्तृत जानकारी अभी नहीं दी गई। मगर माना जा रहा है कि बैठक में इस मामले पर बात-चीत की गई। 

बीजेपी नेताओं में बढ़ी हलचल 
उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद आरोपी बनाए गए बीजेपी नेताओं में भी काफी हलचल देखी जा रही है। आरोपी बनाए गए मुरली मनोहर जोशी ने बुधवार की शाम को लालकृष्ण आडवाणी से उनके आवास पर मुलाकात की। दूसरी ओर आज ही अयोध्या कुच करने वाली बीजेपी नेत्री उमा भारती ने अमित शाह से मुलाकात के बाद अपना अयोध्या दौरा रद्द कर दिया है।


13 बीजेपी नेताओं के खिलाफ चलेगा आपराधिक साजिश का केस 
बाबरी विध्वंस केस पर सीबीआई की ओर से दलील दी गई थी। इसमें बीजेपी नेता लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी समेत अन्य 13 बीजेपी नेताओं के खिलाफ आपराधिक साजिश का केस चलाने की मांग की गई थी। बता दें कि पहले इन पर तकनीकी कारणों से साजिश का केस रद्द किया गया था। बाद में सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी।

विपक्षी दलों ने उमा भारती से मांगा इस्तीफा
अदालत के इस फैसले के बाद विपक्षी दलों ने उमा भारती के इस्तीफे की मांग की। जिसको केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने खारिज कर दिया। साथ ही जेटली ने इस मामले को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवारों के चयन से संबंधित होने की बात को ‘काल्पनिक’ बताया ।

जेटली ने ये कहा 
जेटली ने संवाददाताओं से कहा, ‘यह मामला 1993 से चल रहा है। किसी न किसी तरह से यह चल रहा है और कोई नई स्थिति उत्पन्न नहीं हुई है। इसलिए जो स्थिति है, वह जारी रहेगी।’ यह पूछे जाने पर कि इस मामले में आरोपपत्र के बाद क्या सिंह और उमा भारती को इस्तीफा दे देना चाहिए, जेटली ने पलट कर पूछा कि अगर यह मापदंड हो, तब कांग्रेस के वर्तमान मुख्यमंत्रियों को इस्तीफा देना पड़ेगा। 

यह है सुप्रीम कोर्ट का फैसला
सर्वोच्च न्यायालय ने बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में बुधवार को अहम फैसला सुनाते हुए वरिष्ठ भाजपा नेताओं लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह और उमा भारती समेत 13 आरोपियों को आपराधिक साजिश में संलिप्त करार दिया। इन नेताओं पर आपराधिक साजिश रचने का मुकदमा चलेगा। न्यायमूर्ति पिनाकी चंद्र घोष और न्यायमूर्ति रोहिंटन फली नरीमन की पीठ ने अपराधिक साजिश के मामले को बहाल करने का फैसला सुनाया, साथ ही मामले को रायबरेली से लखनऊ स्थानांतरित कर दिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned