नेशनल हेराल्ड: सोनिया-राहुल गांधी को मिली जमानत

Political
नेशनल हेराल्ड: सोनिया-राहुल गांधी को मिली जमानत

कांग्रेस ने इस मामले के पीछे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा का हाथ बताया

नई दिल्ली। नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी व उपाध्यक्ष राहुल गांधी को जमानत मिल गई है। दोनों को 50-50 हजार रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दे दी गई। कपिल सिब्बल ने सोनिया व राहुल गांधी की ओर से दलील दी और जमानत बॉन्ड भरने की बात मान ली। याचिकाकर्ता सुब्रमण्यम स्वामी ने जमानत देने का विरोध किया और कहाकि दोनों देश छोड़कर भाग सकते हैं।

इससे पहले कांग्रेस ने इस मामले के पीछे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा का हाथ बताया। कांग्रेस नेताओं ने प्रेस कांफ्रेंस कर आरोप लगाया कि सुब्रमण्यम स्वामी को सोनिया गांधी व राहुल गांधी पर केस करने का इनाम सरकारी मकान व जेड सिक्योरिटी के रूप में दिया गया

- सोनिया गांधी और राहुल गांधी कोर्ट पहुंचे
- प्रियंका गांधी लेंगी सोनिया व राहुल गांधी की जमानत
- गुलाम नबी आजाद के घर कांग्रेस नेताओं की बैठक
- विपक्ष की राज्य सरकारों को गिराने का षडय़ंत्र रचा जा रहा है
- पीएम के इशारे पर सबकुछ हो रहा है
- विपक्ष मुक्त भारत केन्द्र सरकार का एजेंडा
- सुब्रमण्यम स्वामी को नियमों के परे जाकर जेड सिक्योरिटी और सरकारी मकान दिया
- नेशनल हेराल्ड मामले में पीएम नरेन्द्र मोदी, उनके मंत्री और भाजपा का हाथ
- कांग्रेस की प्रेस कांफ्रेंस
- दोपहर डेढ़ बजे गुलाम नबी आजाद के घर मिलेंगे कांग्रेस नेता, राहुल-सोनिया भी होंगे शामिल
- राहुल गांधी घर से निकले
- रायबरेली से आए कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का कोर्ट के बाहर प्रदर्शन।
- भाजपा का सोनिया की पेशी से लेना देना नहीं: केन्द्रीय मंत्री रविशंकर
- सुब्रहमण्यम स्वामी के पीछे पीएम मोदी का हाथ: कांग्रेस

जमानत लेंगे सोनिया-राहुल
सोनिया ने शुक्रवार को कहा कि वह और राहुल कोर्ट में पेश होंगे। हालांकि उन्होंने बेल बॉन्ड के सवाल पर कोई जवाब नहीं दिया। ऐसी अटकलें हैं कि शायद दोनों नेता जमानत के लिए आवेदन न करें। हालांकि सूत्रों के हवाले से यह भी खबर है कि सोनिया-राहुल कोर्ट की कार्यवाही में पूरा साथ देेंगे और अगर जमानत लेने को कहा जाएगा, तो वे आवेदन भी करेंगे। अभी तक सोनिया-राहुल ने बेल बॉन्ड नहीं भरा है। अगर आरोपी जमानत के लिए आवेदन नहीं करता है तो अदालत उसे न्यायिक हिरासत में ले सकती है। इस मामले के अन्य आरोपियों मोतीलाल वोरा, ऑस्कर फर्नांडीस के भी कोर्ट में पेश होने की संभावना है।

कोर्ट पर सुरक्षाबलों का पहरा
वहीं कोर्ट के आसपास सुरक्षाबलों को तैनात कर दिया गया है। इसके तहत एसपीजी, सीआरपीएफ,दिल्ली पुलिस के 500 जवान तैनात किए गए है और सीसीटीवी से चप्पे चप्पे पर नजर रखी जा रही है। इसी बीच कांग्रेस समर्थकों ने सोनिया गांधी के समर्थन में और सुब्रमण्यम स्वामी के विरोध में जगह-जगह पोस्टर लगाए हैं। इस मामले को लेकर कांग्रेस ने पीएम मोदी पर राजनीतिक प्रतिशोध का आरोप लगाया। प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहाकि सुब्रमण्यम स्वामी पीएम मोदी के मोहरे हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned