राष्ट्रपति चुनाव: पीएम मोदी ने यह कर खारिज कर दिए थे राजनाथ व सुषमा के नाम 

Political
राष्ट्रपति चुनाव: पीएम मोदी ने यह कर खारिज कर दिए थे राजनाथ व सुषमा के नाम 

राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार की सूचना मीडिया में लीक नहीं होने देना चाहते थे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी।

नई दिल्ली। आखिरकार भाजपा ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए रामनाथ कोविंद के नाम पर मुहर लगा दी। कोविंद मौजूदा समय में बिहार के राज्यपाल हैं। यहां चौंकाने वाली बात यह है कि मीडिया से लेकर भाजपा कार्यकारिणी के कई शीर्ष नेताओं को भी इस बात की भनक नहीं लगी। इकोनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार सोमवार को भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कोविंद के नाम का प्रस्ताव रखा, जिसे दूसरे नेताओ ने मंजूर कर लिया।

PM

यह कहकर खारिज किए बड़े नेताओं के नाम

सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैठक में यह कहते हुए एक झटके में राजनाथ, सुषमा, वेंकैया और गहलोत इत्यादि का नाम खारिज कर दिए।  कि केंद्रीय मंत्रिमंडल के सदस्य उनके लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि महत्वपूर्ण मंत्रियों को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाकर वो उन्होंने खोना नहीं चाहते। यही नहीं बैठक में पीएम मोदी और अमित शाह ने यह भी तय किया कि विपक्षी दलों को कोविंद के बीजेपी उम्मीदवार चुने जाने की किसी तरह मीडिया को लीक न हो जाए। 


खुद पीएम ने फोन कर दी सूचना
भाजपा प्रत्याशी की बात कहीं लीक न हो इस लिए पीएम मोदी ने खुद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू, बिहार के सीएम नीतीश कुमार, तमिलनाडु के सीएम ई पलानीस्वामी आदि को फोन करके इसकी जानकारी दी। 

Rajnath singh

कोविंद से मिले राजनाथ
राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में घोषणा होने के बाद होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह बिहार के राज्यपाल कोविंद से मिले। राजनाथ ने उनको राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुने जाने की मुबारकबाद दी।



ये थे दौड़ में 

राष्ट्रपति पद के लिए भाजपा की ओर से कई बड़े नेताओं के नाम दौड़ में शामिल थे। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने खुद बताया कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, टीसी गहलोत, वेंकैया नायडू, द्रौपदी मुर्मू, मुरली मनोहर जोशी और लालकृष्ण आडवाणी का नामों पर विचार विमर्श किया जा रहा था। 


कोविंद का इस्तीफा मंजूर, केसरीनाथ त्रिपाठी को मिला प्रभार
एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुने जाने के बाद रामनाथ कोविंद ने बिहार के राज्यपाल के पद से इस्तीफा दे दिया है। राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने उनका इस्तीफा स्वीकार करते हुए हुए पश्चिम बंगाल के राष्ट्रपति केसरीनाथ त्रिपाठी को बिहार के राज्यपाल का अतिरिक्त भार सौंपा है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned