कानपुर रेल हादसा, रेल पटरियोंका जायजा लेने पहुंचे डीआरएम

Piyushkant Chaturvedi

Publish: Dec, 01 2016 04:12:00 (IST)

Raigarh, Chhattisgarh, India
कानपुर रेल हादसा, रेल पटरियोंका जायजा लेने पहुंचे डीआरएम

कानुपर रेल हादसे के बाद सुरक्षा व संरक्षा के उपाए का जायजा लेने बिलासपुर डीआरएम, गुरुवार को रागगढ़ दौरे पर थे। स्पेशल ट्रेन से पहुंचे डीआरएम ने सबसे पहले मेडिकल वैन की जांच की।

रायगढ़. कानुपर रेल हादसे के बाद सुरक्षा व संरक्षा के उपाए का जायजा लेने बिलासपुर डीआरएम, गुरुवार को रागगढ़ दौरे पर थे। स्पेशल ट्रेन से पहुंचे डीआरएम ने सबसे पहले मेडिकल वैन की जांच की।

 उसके बाद ट्रॉली वैन से कलो ब्रिज पर बिछाई गई रेल पटरियों का जायजा लिया। इस बीच कुछ स्लीपर मेंं लगे नट-वोल्ट लूज मिलेे।

 डीआरएम ने संंबंधित विभाग को नियमित जांंच कर ऐसी छोटी-छोटी खामियों को दूर करने का आदेश दिया। जिससे कानपुर रेल हादसा जैसी घटनाओं को पुर्नवृत्ति ना हो।

कानपुर रेल हादसे से सबक लेते हुए बिलासपुर डीआरएम गोपीनाथ माल्या, इनदिनों डिवीजन के रेलवे स्टेशनों के दौरे पर हैं। इस कड़ी में डीआरएम गुरुवार को मंडल केए ग्रेड स्टेशन रायगढ़ पहुंचे।

स्पेशल ट्रेन से सुबह ९.०५ में पहुंचे डीआरएम ने सबसे पहले मेडिकल वैन मेंं मौजूदा सुविधाओं का जायजा लिया। जिसमें क्रेन, ओटी, लाइट, जेनरेटट, रस्सी, कटर व अन्य सामान को बेहतर अवस्था में पाया।

 करीब एक घंटे के निरीक्षण के बाद डीआरएम ट्रैक मेंटनेंस को इस्तेमाल होने वाले ट्रॉली से केलो ब्रिज भी गए। जहां केला नदी पर बिछाए गए अप व डाउन लाइन के दोनों रेलवे ट्रैकों की बारीकी से जांच की।

 इस बीच डीआरएम को कुछ नट-बोल्ट लूज दिखे। जिसे डीआरएम ने तत्काल सुधार करने का आदेश दिया। वहीं नियमित गश्त के दौरान ऐसी छोटी-मोटी कमियों को नरजअंदाज नहीं करने की हिदायत दी।

 उनकी माने तो छोटी-छोटी गलतियां ही बड़े रेल हादसे की वजह बन सकती हैंं। ऐसे में, कानपुर रेल हादसे ेके बाद अधिकारी व कर्मचारी को सबक लेने की दरकार है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned