एनएच से प्रभावित मकान का मुआवजा दे दिया दूसरे को

Raigarh, Chhattisgarh, India
एनएच से प्रभावित मकान का मुआवजा दे दिया दूसरे को

इसमें जिस किसान की जमीन व मकान प्रभावित हो रहा है उसको मुआवजा न देकर उससे लगे हुए जमीन का मुआवजा बनाकर वितरण कर दिया गया।

रायगढ़. बिलसपुर से उरदावल तक निर्माणाधिन एनएच में अजीबो-गरीब खेल हुआ है। इसमें जिस किसान की जमीन व मकान प्रभावित हो रहा है उसको मुआवजा न देकर उससे लगे हुए जमीन का मुआवजा बनाकर वितरण कर दिया गया।

अब भू-स्वामी उक्त भूमि में मकान निर्मित होना बताते हुए उसके मुआवजा राशि के लिए गुहार लगा रहा है। खरसिया के ग्राम चोढ़ा निवासी गंगाधर राठिया पिता दिलचंद एनएच से लगा हुआ भूमि खसरा नंबर 55/1,55/2,55/3,55/4, में कुल 0.087 हेक्टेयर जमीन प्रभावित हो रहा है।

उक्त भूमि पर पक्का मकान निर्मित है। उक्त खसरे की भूमि व मकान दोनो एनएच से प्रभावित हो रही है। लेकिन खसरा नंबर 56/2 का उल्लेख करते हुए तमनार के राबो निवासी चूड़ामणि डन्सेना के नाम पर 18 लाख 87 हजार 416 रुपए का मुआवजा पत्रक भी बनाया गया और जारी कर दिया गया। अब एनएच से प्रभावित अपनी जमीन और मकान को लेकर गंगाधर मुआवजे राशि की मांग कर रहा है।

जांच की मांग-  ग्रामीण ने प्रशासन को किए लिखीत शिकायत में जांच करने की मांग की है। कहा गया है कि जो जमीन प्रभावित हो रहा है उक्त जमीन के खसरा नंबर और रकबे का सत्यापन किया जाए ताकि वास्तविकता सामने आएगी। क्योंकि इसमें निर्मित मकान भी प्रभावित हो रहा है।

काट चुका है कई चक्कर- इस मामले को लेकर पीडि़त भू-स्वामी एसडीएम और कलक्टोरेट के पूर्व में भी चक्कर काट चुका है।

ग्रामीण ने बताया कि शिकायत करने के बाद भी संबंधित अधिकारी इसमें जांच नहीं कर रहे हैं। इसप्रकार के और भी गलतियां एनएच के प्रकरण में होने की संंभावना जताई जा रही है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned