सारंगढ क्षेत्र में अवैध शराब बिक्री जोरो पर, आबकारी विभाग मौन

Piyushkant Chaturvedi

Publish: Dec, 02 2016 02:59:00 (IST)

Raigarh, Chhattisgarh, India
सारंगढ क्षेत्र में अवैध शराब बिक्री जोरो पर, आबकारी विभाग मौन

सारंगढ़ अंचल मे घर -घर शराब की अवैध बिक्री हो रही है। अवैध शराब की बिक्री करने वाले और कोई नही बल्कि सरकारी शराब दुकान को ठेकेे मे लेकर व्यवसाय करने वाले ठेकेदार के आदमी ही है।

सारंगढ. सारंगढ़ अंचल मे घर -घर शराब की अवैध बिक्री हो रही है। अवैध शराब की बिक्री करने वाले और कोई नही बल्कि सरकारी शराब दुकान को ठेकेे मे लेकर व्यवसाय करने वाले ठेकेदार के आदमी ही है।

जो कोचियो के माध्यम से हर घर शराब का नारा बुलंद किये हुए हर मोहल्ले और हर चौक के पान दुकानो तक मे शराब का अवैध व्यापार को बढ़ावा दे रहे है।

 बीते विधानसभा चुनाव मे एक ठेकेदार के मैनेजर को तात्कालिन एसडीएम के द्वारा अवैध शराब के साथ गिरफ्तार भी किया गया था वही वर्तमान मे हालत इतना खराब हो चुका है कि क्षेत्र के हर ढ़ाबा और हर होटल मे शराबियो को जमकर शराब परोसी जा रही है।

 पुलिस और आबकारी विभाग के संरक्षण मे हो रहे इस धंधे पर अंकुश लगाने के स्थान पर प्रोत्साहित किया जा रहा है।

सारंगढ़ अंचल मे शराब ठेकेदारो के पंड़ो के द्वारा सरकारी विभाग के संरक्षण मे घर-घर और गांव गांव अवैध शराब का सप्लाई किया जा रहा है।

चंूकि शासन ने दो हजार से कम आबादी वाले गांव मे शराब दुकाने नही खोलने और पहले से ही खुले शराब दुकानो को बंद करने का नीतिगत फैसला लिया है इस कारण से अंचल मे शराब दुकाने कम हो गई है किन्तु खपत दोगुनी हो गई है।

वर्तमान मे सारंगढ़ अंचल के शराब दुकानो में दो गु्रप का कब्जा है वही उलखर शराब दुकान पर भोपाल के ठेकेदार सोम डिस्टलरी का कब्जा है।

 ऐसे मे दूसरे के क्षेत्र मे अपनी पार्टी का अवैध शराब खपाने और अपने दुकानो की शराब बिक्री को बढ़ाने के उद्देश्य से सरकारी शराब दुकानो के ठेकेदारो के पंड़ो के द्वारा शराब की सप्लाई घर-घर कर दिया गया है।

अवैध शराब का व्यापार वैध दुकान संचालित करने वालो के गुर्गो के द्वारा ही व्यापक पैमाने पर किया जा रहा है जिसका असर सारंगढ़ मे बढ़ते मदिरा प्रेमी से देखा जा सकता है।

अंचल के अधिकांश होटल और ढाबा मे शराब जमकर परोसी जा रही है जिस पर पुलिस कोई कार्यवाही नही कर रही है साथ ही सारंगढ़ नगर के अधिकांश वार्डो मे हर चौक चौराहो मे कोचियो के माध्यम से शराब का जमकर बिक्री किया जा रहा है।

अवैध शराब और शराब का प्रसार प्रचार को रोकने के उद्देश्य से शासन ने निर्धारित मापदंड तय किये है जिसके उल्लंघन पर आबकारी विभाग और पुलिस विभाग के द्वारा कार्यवाही किया जाता है किन्तु सारंगढ़ पुलिस के द्वारा तथा आबकारी विभाग के द्वारा शराब ठेकेदारो के बताये अनुसार कच्ची शराब बनाने वालो के यहा पर छापामार कार्यवाही किया जाता है

 लेकिन सरकारी शराब दुकान के गुर्गो और पंड़ो के द्वारा अवैध शराब की बिक्री पर आजतक कोई कार्यवाही नही किया गया है। हालत इतनी बदत्तर है कि नगर और ग्रामीण अंचल के होटलो और ढ़ाबो मे हर समय हर प्रकार से शराब उपलब्ध है तथा हर दिन जमकर शराब पिलाया जा रहा है।

 वही ग्रामीण क्षेत्र के हर ढ़ाबो मे हर प्रकार का शराब उपलब्ध है साथ ही छोटे खोमचे और नाश्ता के होटलो तक मे शराब की उपलब्धता है।

इस संबंध मे जायजा लेने पर ज्ञात हुआ कि पुलिस विभाग और आबकारी विभाग के अधिकारियो को अपने सिस्टम से बांधने मे सफल शराब ठेकेदारो के गुर्गो पर किसी प्रकार से कोई अंकुश नही है।

इस संबंध मे जब कई मोहल्ले का जायजा लिया गया तो ज्ञात हुआ कि आसानी से शराब सामान्य दर से कुछ अधिक कीमत पर उपलब्ध है।

वही दूसरी ओर सारंगढ से रायगढ़ राष्ट्रीय मार्ग पर दिन दहाड़े शराब परिवहन नंगे आँखों से देख जा सकता है। जिस पर ग्रमीणों के द्वारा

 पुलिस को सुचना देने पर थाना प्रभारी का फोन बंद आता है,यदि गरिमत वश ग्रामीणों द्वारा अवैध शराब परिवहन कर रहे गुर्गो को रोका जाए तो पुलिस से पहले ठेकेदारो पता लग जाता है,और पुलिस से पहले ठेकेदार पहुच जाते है।          

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned