हंगामे के 8 दिन बाद Central Jail पहुंचे संसदीय सचिव और डीजी जेल

Ashish Gupta

Publish: Dec, 02 2016 04:30:00 (IST)

Raipur, Chhattisgarh, India
हंगामे के 8 दिन बाद Central Jail पहुंचे संसदीय सचिव और डीजी जेल

केंद्रीय जेल में हंगामे के बाद पहली बार संसदीय सचिव संसदीय सचिव (गृह) लाभचंद बाफना और डीजी (जेल) गिरधारी नायक सेंट्रल जेल पहुंचे। 

रायपुर. केंद्रीय जेल में हंगामे के बाद पहली बार संसदीय सचिव संसदीय सचिव (गृह) लाभचंद बाफना और डीजी (जेल) गिरधारी नायक शुक्रवार को सेंट्रल जेल पहुंचे। इस दौरान डीजी ने पूरे जेल का गहनता से निरीक्षण किया। इस दौरान डीजी ने जेल के अंदर बैरक, हॉस्पिटल, सोलर सिस्टम सहित कैदियों को दी जाने वाली सुविधाओं की भी बारीकी से जानकारी ली। निरीक्षण के दौरान उन्होंने बुजुर्ग कैदियों का हालचाल जाना और उनसे बातचीत की।

कैदियों की समस्याओं को सुना

इसके अलावा डीजी (जेल) नायक ने जेल परिसर का दौरा करते हुए वहां सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया और जेल में कैदियों को दी जाने वाली सुविधाओं की भी बारीकी से जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने बैरक, हॉस्पिटल, सोलर सिस्टम सहित सहित अन्य कई केंद्रों का भी दौरा किया और जेल में बंद कैदियों की समस्याओं को भी सुना। जेल में कैदियों से रूबरू होते हुए उन्होंने कैदियों से अनुशासन के साथ यहां रहने पर जोर दिया।


सेंट्रल जेल में मिले आपत्तिजनक सामान

बीते 24 नवंबर को रायपुर सेंट्रल जेल में जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन की संयुक्त टीम ने छापा मारा था। छापेमारी के दौरान सेंट्रल जेल में जेल के कई बैरकों की तलाशी ली गई। इस औचक छापेमारी में जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन की संयुक्त टीम ने कैदियों के पास से और उनके रहने वाले बैरकों से नशे के सामान और कई आपत्तिजनक सामान बरामद किए थे।


एसपी हुए थे सस्पेंड

सेंट्रल जेल में लगातार हो रही घटनाओं को लेकर जेल प्रशासन ने जेल अधीक्षक गायकवाड को निलंबित कर दिया था। जेल प्रशासन ने जेल का अनुशासन व नियंत्रण नहीं बनाए रख पाने के कारण जेल अधीक्षक को निलंबित कर दिया था और उनकी जगह जेल उप महानिरीक्षक डॉ. केके गुप्ता को अतिरिक्त प्रभार सौंपा था। 


बता दें, कि बीते 21 नवंबर को सेंट्रल जेल में आपसी रंजिश के चलते कैदी ने अपने ही बैरक में रहने वाली कैदी की कैंची मारकर हत्या कर दी। दोनों ही हत्या के आरोप में कई सालों से आजीवन कारावास की सजा काट रहे थे। उनके बीच पहले से ही विवाद चल रहा था। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned