मकर संक्रांति 2017: इस दुर्लभ योग में करें स्नान-दान, होगा विशेष लाभ

Ashish Gupta

Publish: Jan, 13 2017 11:23:00 (IST)

Raipur, Chhattisgarh, India
मकर संक्रांति 2017: इस दुर्लभ योग में करें स्नान-दान, होगा विशेष  लाभ

मकर संक्रांति इस बार शुभफलहारी होगी। सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक पूरा दिन स्नान दान के लिए शुभ दिन रहेगा। इस दिन तीर्थों में स्नान और दान करने से पुण्य फल की प्राप्ति होती है।

रायपुर. मकर संक्रांति इस बार शुभफलहारी होगी। संक्रांति सूर्योदय से शुरू होगी। इसलिए संक्रांति का पुण्य काल दिनभर रहेगा। सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक पूरा दिन स्नान दान के लिए शुभ दिन रहेगा। इस दिन तीर्थों में स्नान और दान करने से पुण्य फल की प्राप्ति होती है।

सुख-समृद्घि दायक
मकर संक्रांति में इस बार सुख-संवृद्धि दायक होगी। गरीब वर्ग, किसान ने व्यापारियों के लिए यह संक्रांति अति शुभ फलदायी है। मकर संक्रांति इस बार गज पर सवार हो क र आ रही है। गज मां देवी लक्ष्मी का भी वाहन है। मकर संक्रांति का वाहन इस बार गज होने से धन-धान्य और सुख-संवृद्धि प्रदान करेगी। पं. मनोज शुक्ला ने बताया कि सूर्य मकर राशि में प्रवेश के दौरान अश्लेषा नक्षत्र एवं कर्क राशि में विराजमान रहेगा। ग्रह एवं स्वरूप के लिहाज से संक्रांति शुभफल प्रदान करेगी। फसलों की अच्छी पैदावार होगी और विकास कार्य रफ्तार पकड़ेंगे।

दिनभर रहेगा पुण्यकाल
ज्योतिषाचार्य यदुमणि तिवारी ने बताया कि सूर्य का मकर राशि में प्रवेश सुबह 7.30 बजे होगा। इस लिहाज से पूरा दिन विशेष रूप से फलदायी रहेगा। मकर संक्रांति के साथ ही सूर्य उत्तरायण हो जाएगा। मकर संक्रांति पर्व प्रीति योग में रहेगा। वृष मिथुन, कर्क कन्या वृश्चिक मीन राशियों के लिए मकर संक्रांति शुभ फलदायी रहेगा। शेष राशियों के लिए संक्रांति मध्यम फलदायी रहेगी।

एेसा होगा संक्रांति का स्वरूप
वाहन - गज
उपवाहन - गर्दभ
दृष्टि ईशान की ओर
वर्ण पशु

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned