घर से पढ़ने आई युवतियां किराए के मकान पर चला रही थी सेक्स रैकेट, 3 को दबोचा

Raipur, Chhattisgarh, India
घर से पढ़ने आई युवतियां किराए के मकान पर चला रही थी सेक्स रैकेट, 3 को दबोचा

राजधानी का पॉश इलाका शंकर नगर का एक मकान अय्याशी का अड्डा बना हुआ था। सिविल लाइन पुलिस ने मंगलवार की रात दबिश देकर मौके से तीन युवतियों और दो युवकों को आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा

रायपुर. राजधानी का पॉश इलाका शंकर नगर का एक मकान अय्याशी का अड्डा बना हुआ था। सिविल लाइन पुलिस ने मंगलवार की रात दबिश देकर मौके से तीन युवतियों और दो युवकों को आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा। आरोपियों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया। पकड़ी गई युवतियों ने मामले में शहर के एक टीआई का नाम भी लिया और उन पर गंभीर आरोप लगाए। टीआई का ऑडियो-वीडियो रिकार्डिंग होने का भी दावा किया। उन्होंने खुद को पुलिस परिवार से होने की बात भी कही।

सिविल लाइन सीएसपी संजय कुमार धु्रव के मुताबिक शंकर नगर सेक्टर-2 में एलआईजी-22 एडवोकेट रुचिर शर्मा का मकान है। उन्होंने मकान को कुछ युवतियों को किराए पर दे दिया है। दो माह से इस मकान में मोना मंडावी(20), मनीषा साहू(23) और पायल सिंह(21), पूजा(21) (सभी परिवर्तित नाम) रहती थीं। मकान में देर रात तक युवकों का आना-जाना लगा रहता था। पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मंगलवार की रात मौके पर दबिश दी। उस दौरान न्यू शांति नगर निवासी देवेंद्र निर्मलकर और पंडरी बाजार निवासी एखलाक कुरैशी युवतियों के कमरे में मौजूद थे। पुलिस को देखकर पूजा भाग निकली। बाकी तीनों युवतियां और दो युवकों को पुलिस ने पकड़ लिया। मौके से कंडोम व दवाइयां मिलीं। सभी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। बताया जाता है कि मौके से भागने वाली युवती का एक टीआई से दोस्ती है और उसी ने पुलिस को सूचना दी थी।
टीआई पर गंभीर आरोप

युवतियों ने एक टीआई पर गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि टीआई उन्हें अपने पास बुलाता था। नहीं जाने पर उसने कार्रवाई करवा दी है। युवतियों ने टीआई का ऑडियो-वीडियो रिकार्डिंग होने का भी दावा किया और जमानत पर छूटते ही इसे सार्वजनिक करने की बात कही।

खुद को हॉकी खिलाड़ी, मॉडल और भाई को बताया डीएसपी
मोना और मनीषा राजनांदगांव की हैं। मोना खुद को हॉकी प्लेयर बताती हैं और अगले महीने उसका टेस्ट होना है। इस बीच वह मॉडलिंग करने रायपुर आई थीं। मनीषा के पिता प्रॉपर्टी डिलिंग कंपनी में मैनेजर हैं। पायल पचपेढ़ीनाका की रहने वाली है, लेकिन शंकर नगर में रह रही थी। मोना का कहना था कि उसका भाई डीएसपी है और पायल ने अपनी मौसी को महासमुंद में टीआई के रूप में पदस्थ होना बताया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned