पेरेंट्स ध्यान से पढ़ें ये खबर! बच्चों को मिट्टी में खेलने दें, वरना नहीं होगा विकास

Abhishek Jain

Publish: Jul, 18 2017 12:08:00 (IST)

Raipur, Chhattisgarh, India
पेरेंट्स ध्यान से पढ़ें ये खबर! बच्चों को मिट्टी में खेलने दें, वरना नहीं होगा विकास

दुनिया के हर मां-बाप अपने बच्चे को साफ-सुथरा, सुरक्षित व कीटाणु रहित वातावरण देना चाहते हैं। कोई नहीं चाहता कि उनका बच्चा किसी गंदगी या कीटाणु की चपेट में आए।

दुनिया के हर मां-बाप अपने बच्चे को साफ-सुथरा, सुरक्षित व कीटाणु रहित वातावरण देना चाहते हैं। कोई नहीं चाहता कि उनका बच्चा किसी गंदगी या कीटाणु की चपेट में आए। मगर अब माता-पिता इसे लेकर आश्वस्त हो सकते हैं, क्योंकि वैज्ञानिकों का भी मानना है कि मिट्टी बच्चों के लिए हानिकारक नहीं है, बल्कि उनकी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है। अमरीका में शोधकर्ताओं की टीम के अगुवा वैज्ञानिक जैक गिलबर्ट ने मिट्टी और बच्चों पर यह शोध किया है।

प्रतिरोधक क्षमता पर लिखी किताब
दो बच्चों के पिता गिलबर्ट ने यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो से माइक्रोबॉयलॉजी परिस्थितिकी तंत्र की पढ़ाई की है। वे खोज कर रहे है कि मिट्टी और उसमें पाए जाने कीटाणु किस तरह बच्चों को प्रभावित करते हैं। गिलबर्ट ने 'मिट्टी में पाए जाने वाले जीवाणुओं से फायदे, बच्चों का विकास और प्रतिरक्षा' नाम से एक किताब लिखी है।

कीटाणु हैं फायदेमंद
गिलबर्ट के मुताबिक, कई बार जमीन पर खाना गिरने के बाद उसे फेंक देते हैं, क्योंकि आपको लगता है कि वह गंदा हो जाता है। लेकिन ऐसा नहीं है। खाने में लगे कीटाणु बच्चे के लिए फायदेमंद होंगे।

एलर्जी से छुटकारा
बच्चों को मिट्टी में खेलने से एलर्जी इसलिए होती है, क्योंकि हम उन्हें कीटाणु से बचाने के लिए बहुत कुछ करते हैं। इसलिए उन्हें एलर्जी हो जाती है। जीवाणु की कमी की वजह से बच्चे अस्थमा, फूड एलर्जी जैसी बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं।

&माता-पिता अपने बच्चों को लेकर काफी चिंतित होते हैं। खासकर सफाई के मामले में। उन्हें रोकने के बजाय आजादी से मिट्टी में खेलने देना चाहिए। बिना किसी कीटाणु की चिंता किए। हां कोई फ्लू है तो हाथ धोने दें और कुत्ते के साथ भी बेझिझक खेलने दें। इससे कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा।  जैक गिलबर्ट, वैज्ञानिक 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned