जिलेभर में दबंगई कर रहे फायनेंस कंपनियों के एजेंट

praveen praveen

Publish: Nov, 29 2016 10:55:00 (IST)

Raisen, Madhya Pradesh, India
जिलेभर में दबंगई कर रहे फायनेंस कंपनियों के एजेंट

रायसेन. ग्रामीण क्षेत्रों में महिला समूह बनाकर उन्हें ऋण बांटने वाली माइक्रों फाइनेंस कंपनियों द्वारा नोटबंदी के बाद महिलाओं को प्रताडि़त करना शुरू कर दिया है।

रायसेन. ग्रामीण क्षेत्रों में महिला समूह बनाकर उन्हें ऋण बांटने वाली माइक्रों फाइनेंस कंपनियों द्वारा नोटबंदी के बाद महिलाओं को प्रताडि़त करना शुरू कर दिया है। महिलाओं पर छोटे और नए नोट से ही ऋण किश्त की राशि जमा करने के लिए अभ्रदता कर मारपीट करने पर भी उतारू हो रहे हैं। इस प्रताडऩा से तंग आकर मंडीदीप क्षेत्र के गांव दाहोद एवं सांची के ग्राम सेवासनी की दर्जनों महिलाएं मंगलवार को एसपी कार्यालय पहुंची। 

एसपी जगत सिंह राजपूत को आवेदन सौंपकर बताया कि प्रताडऩा से तंग आकर पूर्व में दाहोद की दो महिलाओं ने खुदकुशी कर ली है। गांव में सैटिन क्रेडिट केयर नेटवर्क लिमिटेड, दिशा माईक्रोफीन प्राइवेट लि. एनएनटी, जन लक्ष्मी, ग्राम शक्ति, भारत, स्पदंन सहित आदि कई माईक्रो फायनेंस कंपनियों द्वारा गांव की महिलाओं को ऋण बांटा गया है। महिला लता मरकाम ने बताया कि कंपनियों के एजेंटों द्वारा पिछले ही दिनों आठ महिलाओं के खातों में 40-40 हजार रुपए की रकम जमा कर दी गई और दूसरे की भैंस के साथ फोटो खिंचवा लिया गया। अभी हाल ही में एक व्यक्ति ने घर में खुद को आग के हवाले कर लिया था।  

पहले शिकायत करो  
महिलाओं ने एसपी जगत सिंह राजपूत को आवेदन दिया, तो एसपी ने कहा कि पहले संबंधित थाना क्षेत्रों में शिकायत दर्ज करवाएं, फिर कार्रवाई होगी। ऋण लेने में आप और कंपनी के बीच क्या हुआ है, यह जानकारी पुलिस को नहीं है। लेकिन अगर कंपनियों द्वारा प्रताडि़त किया जा रहा है तो निश्चित ही कार्रवाई की जाएगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned