अवैध मुरम की खुदाई से सड़क निर्माण

praveen praveen

Publish: Nov, 29 2016 11:05:00 (IST)

Raisen, Madhya Pradesh, India
अवैध मुरम की खुदाई से सड़क निर्माण

 सिलवानी. सिलवानी से लगे ग्राम सियरमउ से टडा मार्ग के सीसी निर्माण में काफी अनिमितताएं की जा रही हैं। ठेकेदार के द्वारा पूरी सड़क को खोद दिया गया है।

 सिलवानी. सिलवानी से लगे ग्राम सियरमउ से टडा मार्ग के सीसी निर्माण में काफी अनिमितताएं की जा रही हैं। ठेकेदार के द्वारा पूरी सड़क को खोद दिया गया है।

   इससे इस सड़क पर चलने मे भी लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं सड़क निर्माण में मुरम से सड़क को पूरा जा रहा है, इससे सड़क पर लगभग चार इंच की धूल की मोटी परत बन गई है। जिस पर अगर कोई वाहन निकल जाता है तो धूल के गुबार उडऩे लगते हैं। वहीं लोगों का कहना है कि हम लोग कही भी अपने काम से नहीं जा पा रहे हैं। अगर मोटर साइकिल से जाते हैं, तो गांव तक पहुंचने में ही हम लोगों की हालत खराब हो जाती है।

अवैध मुरम से हो रहा निर्माण
सड़क कंपनी के द्वारा अवैध मुरम से सड़क का निर्माण कराया जा रहा है। इस बात की जानकारी अधिकारियों को भी है, लेकिन ऊंची पहुंच की वजह से कोई अधिकारी इस ठेकेदार पर कार्रवाई नहीं कर पा रहा है। इसी वजह से ठेकेदार भी अपनी मर्जी से जहां जगह मिली वहीं पर खुदाई कर रहा है। लोगों का कहना है कि अगर कोई आपत्ति करता है तो उसको डराने धमकाने का काम भी किया जाता है। गांव के लोग कई बार इस सड़क पर अपत्ति लगा चुके हैं।

नहीं मिला मुआवजा
सड़क निर्माण कंपनी ने इस सड़क का काम तो शुरू कर दिया, लेकिन किसानों को अभी तक मुआवजा नहीं दिया गया। इससे किसान परेशान हैं। किसानों का कहना है कि जब शासन ने उन्हे मुआवजा नहीं दिया तो सड़क निर्माण की अनुमति क्यों दी। सरक ार को पहले लोगों को मुआवजा चाहिए, इससे कि किसान को परेशानी का सामना न करना पड़े। वहीं अधिकारी भी इस और ध्यान दें तो किसानो को मुआवजा मिल सके।

कौन करेगा कार्रवाई
इस सड़क निर्माण में अवैध तरीके से काम किया जा रहा है, लेकिन प्रशासन इस मामले में कोई भी कार्रवाई करने से कतरा रहा है। इसी वजह से ठेकेदार के हौसले भी बुलंद हैं और वह अपनी मर्जी से काम कर रहा है। सड़क की गुणवत्ता भी ठीक नहीं है और अभी तक कोई भी कार्रवाई नहीं हो सकी है। ग्रामीणों ने ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए शीघ्र मुआवजा देने की मांग की है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned