सड़क पर शव रखकर किया विरोध

Bhopal, Madhya Pradesh, India
सड़क पर शव रखकर किया विरोध

बरेली. तहसील मुख्यालय के अन्तर्गत आने वाली ग्राम पंचायत कामतौन सब स्टेशन पर मंगलवार की शाम प्राइवेट ठेकेदार का कर्मचारी बिजली सुधार कार्य करते समय हाई वोल्टेज करंट की चपेट में आ गया था।

बरेली. तहसील मुख्यालय के अन्तर्गत आने वाली ग्राम पंचायत कामतौन सब स्टेशन पर मंगलवार की शाम प्राइवेट ठेकेदार का कर्मचारी बिजली सुधार कार्य करते समय हाई वोल्टेज करंट की चपेट में आ गया था। इस कारण उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। आस पास खेतों में काम कर रहे कुछ किसानों ने इस घटना की जानकारी थाने में पहुंचाई। मृतक को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहां पर मृतक के पोस्टमार्डम के बाद बुधवार सुबह उसका शव परिजनों को सौंप दिया गया। परंतु क्रोधित परिजनों सहित कालोनी के निवासी उपजेल के सामने राष्ट्रीय राजामार्ग पर शव को रखकर बिजली कंपनी के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। इस कारण लगभग आधे घटे तक राष्ट्रीय राजमार्ग पर जाम लगा रहा।


नगर के दाल मिल मोहल्ले में निवासरत 35 वर्षीय बलवंत मालवीय पुत्र सियाराम मालवीय, कामतोन सब स्टेशन पर बिजली सुधार कार्य कर रहा था। अचानक किसी ने सप्लाई चालू कर दी। इससे बलवंत करंट की चपेट में आ गया। और उसकी मौके पर ही मृत्यु हो गई। मृतक के दो छोटे छोटे बच्चे अनाथ हो गए और उसकी पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल है। इस घटना से क्रोधित होकर मृतक के पोस्ट मार्टम के बाद लोगों का गुस्सा फूट गया।


अधिकारी पहुंचे मौके पर
राष्ट्रीय राजमार्ग पर मृतक के शव को रखे जाने और सड़क पर चक्काजाम लग जाने की सूचना मिलते ही एसडीएम ओपी सोनी, थाना प्रभारी सज्जनसिंह मुकाती पुलिस बल के साथ पहुंचे। जहां उन्होंने मृतक के परिवार जनों को समझाने की कोशिष की। परंतु उनका कहना था यहां पर बिजली कंपनी के अधिकारी आकर हमसे बात करें। तुरंत एसडीएम के आदेश पर बिजली कंपनी के अधिकारी अंकुर मिश्रा मौके पर पहुंचे और उन्होंने मृतक के परिवार को दाह संस्कार के लिए दस हजार रुपए की राशि देते हुए तीन लाख रुपए की सहायता राशि उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया। अधिकारियों के आश्वासन के बाद सड़क से मृतक के शव को परिजनों द्वारा हटा लिया गया। इसके बाद सड़क पर आवागमन शुरू हुआ।

हो चुकी हैं कई दुर्घटनाएं
जब से कामतोन सब स्टेशन बना है तब से कई गंभीर दुर्घटनाएं यहां पर घटित हो चुकी हैं। इसका कारण सब स्टेशन की देखभाल करने की किसी जिम्मेदार के द्वारा नहीं की जाती है।हमेशा ठेकेदार के कर्मचारी ही यहां काम करते हैं। जिनके अनुभव की कमी और जिम्मेदारों की लापरवाही दुर्घटना का कारण बनती है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned