पंचकल्याणक एवं गजरथ महोत्सव में पहुंचे हजारों श्रद्धालु

ram kailash

Publish: Jan, 14 2017 12:08:00 (IST)

Raisen, Madhya Pradesh, India
पंचकल्याणक एवं गजरथ महोत्सव में पहुंचे हजारों श्रद्धालु

समय, सावधानी का ध्यान रखकर कार्य को सफल बनाएं: आचार्य विद्यासागर

सिलवानी. श्रावक को समय का ध्यान रखते हुए सावधानी पूर्वक कार्य प्रारंभ करने के साथ ही पूर्ण करना चाहिए। सावधानी पूर्वक किया गया कार्य श्रावक के जीवन में समरसता उत्पन्न करने के साथ ही जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सफलता हासिल करता जाता है, जबकि असावधानी और समय के विपरीत ध्यान रख कर कार्य करने से नुकसान ही नुकसान होता है। कार्य में बाधा भी उत्पन्न होती है। यह बात आचार्य विद्यासागर महाराज ने शुक्रवार से प्रारंभ हुए छह दिवसीय श्री मज्जिनेंद्र जिनबिंब पंच कल्याणक प्रतिष्ठा एवं पंच गजरथ महोत्सव तथा विश्व शांति महायज्ञ के पहले दिन गर्भ कल्याणक को समझाते हुए कही। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में श्रावक उपस्थित रहे। आचार्य विद्यासागर महाराज ने बताया कि असावधानी अथवा ज्ञान के अभाव तथा कर्मो के तीव्र उदय से प्रकाश की चकाचौंध नहीं दिखाई देते है। बिजली चमक गई, उसे पकड़ नहीं सकते हो, इसी तरह जाने वाले समय को मुट्ठी में बंद नहीं किया जा सकता है। कार्य संकल्प की भावना के साथ किया जाना चाहिए। ऐसा किए जाने से कार्य के प्रति किया गया संकल्प कार्य में सफलता दिलाता है। श्रावक को चाहिए कि वह अपना जीवन विधान के योग्य बनाए, संस्कार से ही ऐसा किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि गर्भ कन्याणक महापुरुषों का होता है, प्रत्येक व्यक्ति का नहीं होता है। यह ऐसा पुण्य है कि देव भी उत्सव मनाने आते हैं। कल्पना के माध्यम से, रहस्य क्या है इसका चिंतन किया जाना चाहिए। चिंतन करने से कई सवाल मानस पटल पर उठते हैं जिनका जवाब भी मिल सकता है। यहां पर पंच कल्याणक के पात्रों की भूमिका को भी विस्तार से बताया गया।

महाआरती का आयोजन
रात्रि में कार्यक्रम स्थल पर महाआरती का आयोजन किया गया। इसका सौभाग्य जिनेश जैन भाईजी परिवार को प्राप्त हुआ। शुक्रवार को लोक निर्माण विभाग मंत्री रामपाल सिंह राजपूत भी कार्यक्रम में पहुंचे। पंचकल्याणक महोत्सव को लेकर नगर में उत्सवी माहौल है। नगर को झंडे, बैनरों से सजाया गया है। कार्यक्रम में देश के साथ विदेशों में रह रहे कई जैन समाज के लोग भी सिलवानी पहुंच रहे हैं।

चार रसोई में कराया जा रहा भोजन
पंच कल्याणक के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए देश के विभिन्न स्थानों से आने वाले श्रावकों के नि:शुल्क भोजन की व्यवस्था आयोजक समिति द्वारा की गईं है। यहां सैकड़ों श्रावक भोजन ग्रहण कर रहे हंै। आवास व्यवस्था भी की गई है। आचार्यश्री विद्यासागर महाराज का शुक्रवार को पडग़ाहन करा कर आहार कराए जाने का सौैभाग्य मनोज कुमार अक्षत कुमार जैन गुड़ वालों को प्राप्त हुआ।

आज ये होंगे कार्यक्रम
श्री मंज्जिनेंद्र जिनबिंब पंच कल्याणक प्रतिष्ठा एवं पंच रथ महोत्सव तथा विश्वशांति महायज्ञ के दूसरे दिन गर्भ कल्याणक का उत्तर रूप मनाया जाएगा। इसके तहत आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रम की कड़ी में सुबह से देर रात तक विभिन्न कार्यक्रम होंगे। सुबह साढ़े छह बजे से पात्र शुद्धि, अभिषेक, शांति धारा, शांति हवन, आचार्य पूजन होगा। इसके अतिरिक्त अन्य कार्यक्रम भी संपन्न किए जाएंगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned