न बिजली और न पानी, विभाजन से अब तक अंधेरे में गुम है यह गांव

Shribabu Gupta

Publish: Dec, 02 2016 12:46:00 (IST)

Ramgarh, Jharkhand, India
न बिजली और न पानी, विभाजन से अब तक अंधेरे में गुम है यह गांव

झारखंड अलग राज्य बने 15 साल गुजर जाने के बाद भी एक गावं ऐंसा है जो आज भी अंधेरे ही गुम है...

जादूगोड़ा। झारखंड अलग राज्य बने 15 साल गुजर जाने के बाद भी एक गावं ऐंसा है जो आज भी अंधेरे ही गुम है। बिजली आज तक गांव में पहुंची हीं नही, सड़क के नाम पर पथरीला रास्ता मात्र है। खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहते राशन कार्ड मिले, लेकिन सरकारी अधिकारियों की लापरवाही से इन्हे 15 किमी दूर उतरी ईचड़ा गांव राशन लेने के लिए आना पड़ता है।

जानकारी के अनुसार आलम यह है कि गांव में मात्र एक चापाकल है, जिसका ग्रामीण बीमारी के भय से उपयोग नहीं करते। इस चापाकल से दुर्गंधयुक्त पानी निकलता है। प्यास बुझाने के लिए बड़ा झरना गांव के के लोगों के लिए गड्ढे का पानी ही उनका एकमात्र सहारा है।

हम बात कर रहे हैं पूर्वी सिंहभूम जिले के मुसाबनी प्रखंड की माटीगोड़ा पंचायत का बड़ाझरना गांव की जो आज भी बुनियादी सुविधाओं से जूझ रहा है। गांव में न तो बिजली और न ही पानी। सड़क के नाम पर कच्ची पगडंड़ियां हैं। इसे ही लोग गांव की लाइफ लाइन मान चुके हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned