चंबल में नाव पलटी, दो महिला की मौत

vikram ahirwar

Publish: Apr, 21 2017 01:36:00 (IST)

Ratlam, Madhya Pradesh, India
चंबल में नाव पलटी, दो महिला की मौत

-शुक्रवार सुबह तक जारी रहा सर्चिग अभियान


रतलाम (गरोठ)। चंबल नदी में बनी गांधीसागर जलाशय पर गुरुवार रात नाव पलटने से दो महिला की डूबने से मौत हो गई, जबकि चार महिलाओं को डूबने से बचा लिया गया है। नाव में छह महिलाएं सवार थी, नाव पलटने से वे सभी जलाशय में गिर गई। हालांकि इनमें से दो महिलाएं तैरकर बाहर निकल आई। वहीं, दो अन्य महिलाओं को भी बचा लिया गया। सूचना पर एसडीएम, तहसीलदार सहित पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। हादसे में घायल दो महिलाओं में से एक को गरोठ और एक को शामगढ़ अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शामगढ़ से करीब 25 किलोमीटर दूर चंबल नदी किनारे स्थित ग्राम बकाना की छह महिलाएं गुरुवार सुबह नाव से जलाशय पार खरबूजे के खेतों में काम करने गई थी। शाम करीब सात बजे नाव खुद चलाकर वापस गांव लौट रही थी कि अचानक नाव का संतुलन बिगड़ा इससे नाव पलट गई। नाव में बैठी सभी महिलाएं पानी में जा गिरी। इनमें से दो महिलाएं हुडीबाई और शांतिबाई तैराना जानती थी। उन्होंने जलाशय में डूब रही कमलाबाई और बगदीबाई को भी अपने साथ जलाशय से बाहर निकाला। महिलाएं शाणीबाईऔर प्रेमबाई लापता हो गई।

घटना की सूचना मिलने पर शामगढ़ थाना इंचार्ज दिलीप राजौरिया बल के साथ मौके पर पहुंचे। वहीं एसडीएम अर्पित वर्मा, तहसीलदार राधा मंहत भी प्रशासनिक अमले के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने रेस्कयू टीम को मौके पर बुलाया। रात करीब साढ़े आठ बजे लापता महिलाओं को खोजने के लिए गोताखोरों की टीम जलाशय में उतरी उनकी सहायता के लिए शामगढ़ और बकाना क्षेत्र के लोग भी डटे रहे। रात करीब सवा दस बजे रेस्क्यू टीम को जलाशय में शाणीबाई का शव मिला। हालांकि रात एक बजे भी एक और लापता महिला प्रेमबाई को खोजने का कार्य जारी था। सुबह उक्त महिला का शव भी मिल गया।

एसडीएम अर्पित वर्मा ने कहा कि नाव बिना परमिट की है। महिलाएं खेत से वापस घर लौट रही थी तब यह हादसा हुआ। दो शव निकाले जा चुके है। थाना प्रभारी दिलीप राजौरिया ने कहा कि प्रशासन अमले के साथ पुलिस बल भी मौके पर है रेस्क्यू जारी है। रेस्कयू आपॅरेशन कंपलीट होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned