फर्जी ई-चालान बनाकर मैनेजर ने की धोखाधड़ी

vikram ahirwar

Publish: Jan, 13 2017 10:43:00 (IST)

Ratlam, Madhya Pradesh, India
फर्जी ई-चालान बनाकर मैनेजर ने की धोखाधड़ी

- मै. बाबा ऑटोलिंक प्रा.लि. के मैनेजर के खिलाफ धोखाधड़ी में प्रकरण दर्ज


रतलाम।
स्टेशन रोड थाना पुलिस ने वाणिज्य कर अधिकारी की शिकायत पर मेसर्स बाबा ऑटोलिंक प्रालि के संचालक व एकाउंट मैनेजर आशीष राठौर के खिलाफ फर्जी ई-चालन बनाने के मामले में धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया है।

         मामले के जांच अधिकारी एसआई केएस यादव ने बताया कि वाणिज्य कर अधिकारी अनिल कुमार जोशी ने शिकायत दी थी कि अगस्त 2016 में कर राशि 22 लाख 11 हजार 533 रुपए का फर्जी ई-चालान कार्यालय में जमा कराया था। चालान एकाउंट में जाने पर फर्जी पाया गया। आईसीआईसीआई बैंक की मुख्य शाखा इंदौर से चालान के बारे में तस्दीक रिपोर्ट मांगी गई। बैंक के प्रबंधक नरेश तलरेजा ने बताया कि चालान उनकी बैंक का नहीं है। इसके बाद पुलिस को मामले की आवेदन पर शिकायत दी थी। जांच में सामने आया कि एकाउंट मैनेजर ने फर्जी ई-चालान प्रस्तुत किया था। पुलिस ने मैनेजर को आरोपी बनाते हुए उसके खिलाफ प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

फर्जी चालान करार दिया
वाणिज्य कर अधिकारी अनिल कुमार जोशी ने बताया कि चालान पूरी तरह से फर्जी है। विभाग के सायबर सेल में जांच के बाद चालान संदेही होने पर बैंक से जानकारी मांगी गई थी। वहां से चालान को फर्जी बताया गया। उसके बाद कंपनी को नोटिस भेजा गया। अक्टूबर माह में कर जमा कराया गया। जबकि प्रत्येक माह की 10 तारीख तक कर राशि जमा होती है।

तकनीकी खामी के कारण चालान गलत

कंपनी से 15 और 7 लाख रुपए राशि के ई-चालान कर विभाग को एकाउंट मैनेजर आशीष राठौर ने जारी किए थे। तकनीकी कारण के कारण वह खारिज हुए है। कर की राशि पूरी विभाग में समय रहते जमा करा दी गई है। मैं अभी दस दिन पहले ही यहां पर पदस्थ हुआ हूं। इससे ज्यादा पता नहीं है।
- विशाल कांसलीवाल, इंचार्ज मेसर्स बाबा ऑटोलिंक प्रा. लि. रतलाम।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned