#High_Speed- दिल्ली-मुंबई ट्रैक पर इसी वर्ष दौड़ेगी हाईस्पीड ट्रेन 

vikram ahirwar

Publish: Apr, 21 2017 10:33:00 (IST)

Ratlam, Madhya Pradesh, India
#High_Speed- दिल्ली-मुंबई ट्रैक पर इसी वर्ष दौड़ेगी हाईस्पीड ट्रेन 

रेलवे ने ये तय कर लिया है कि दिल्ली-रतलाम-मुंबई के ट्रैक पर इस वर्ष ही हाईस्पीड ट्रेन चलाएगी। इसके लिए रेलवे ने हाईस्पीड रेल कार्पोरेशन में निदेशक के रुप में अचल खेर को नियुक्त कर दिया है।




रतलाम।  रेलवे ने ये तय कर लिया है कि दिल्ली-रतलाम-मुंबई के ट्रैक पर इस वर्ष ही हाईस्पीड ट्रेन चलाएगी। इसके लिए रेलवे ने हाईस्पीड रेल कार्पोरेशन में निदेशक के रुप में अचल खेर को नियुक्त कर दिया है। खरे का काम इस ट्रैक सहित दिल्ली-हावड़ा लाइन पर हाईस्पीड ट्रेन को चलाने का रहेगा। 

मंडल के दो अधिकारी सहित 40 अधिकारियों को रेलवे पहले ही चीन में हाईस्पीड ट्रेन के अध्ययन के लिए भेज चुकी है। इनके अलावा 20 अधिकारी इस समय जापान में हाईस्पीड ट्रेन की तकनीक का अध्ययन कर रहे है। हाईस्पीड ट्रेन के बाद इस सेक्शन पर अतिरिक्त ट्रेन रेलवे चलाएगा। 

खरे की नियुक्ति पांच वर्ष के लिए

रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार खरे की नियुक्ति पांच वर्ष के लिए की गई है। इस समय खरे रेलवे में इं्रफ्रा विभाग में पदस्थ है। हाईस्पीड ट्रेन चलाने के लिए चीन के अलावा रेलवे जापान भी अपने अधिकारियों को अध्ययन के लिए भेजने जा रही है। इस समय दिल्ली-रतलाम-मुंबई के बीच सबसे तेज गति की राजधानी ट्रेन 110 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से चलती है। इसको रेलवे 160-200 किमी की गति देना चाह रही है। इसके लिए रेलवे तेजी से एलएचबी डिब्बों का निर्माण भी कर रही है। इतना ही नहीं, रेलवे दिल्ली-चंडीगढ़ सेक्शन पर 200 से 220 की गति से ट्रेन चल सके इसकी जिम्मेदारी भी खरे को 
दी है। 

मिशन रफ्तार में सभी काम

कुछ समय पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने मिशन रफ्तार की शुरुआत की थी। इसमे धीमी गति से चलने वाली ट्रेन की गति को 5 से 20 किमी की रफ्तार में बढ़ावा किया। इसके अलावा कुछ ट्रेन का ठहराव को भी कम किया। इससे जो ट्रेन रतलाम में 30 मिनट तक खड़ी रहती थी अब वह सिर्फ 10 मिनट खड़ी रह रही है। मई के पहले सप्ताह में यहां से गए अधिकारी अध्ययन कर लौट आएंगे। इसके बाद रेलवे करीब 500 अधिकारियों के दल को चीन व जापान भेजेगा। इनमें इंजीनियरिंग व इलेक्ट्रिकल विभाग के अधिकारी शामिल रहेंगे। 

सफल होने के बाद बढेग़ी ट्रेन

रेलवे अधिकारियों के अनुसार इन सेक्शन पर हाईस्पीड ट्रेन चलाने व उसकी सफलता के बाद इस गति की अतिरिक्त ट्रेन को चलाया जाएगा। इसका मतलब साफ है कि दिल्ली-रतलाम-मुंबई के ट्रैक पर यात्रियों को कम समय में उनके स्टेशन पर पहुंचाने के लिए आने वाले समय में ओर ट्रेन की सुविधा मिलने वाली है। 

लक्ष्य पर काम कर रहे हैं

 रेलवे का लक्ष्य है कि जल्द हाईस्पीड ट्रेन चले। इस लक्ष्य पर अलग-अलग दल काम कर रहे है। शीघ्र ये सुविधा मिले, इसके लिए प्रयास जारी है। 

 - जेके जयंत, जनसंपर्क अधिकारी, रतलाम रेल मंडल 


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned