महापौर ने बच्चों को सुनाई कहानी

vikram ahirwar

Publish: Jan, 14 2017 11:03:00 (IST)

Ratlam, Madhya Pradesh, India
महापौर ने बच्चों को सुनाई कहानी

जिलास्तरीय कहानी उत्सव के मुख्य आयोजन में अतिथि के रूप में मौजूद थी महापौर डॉ. सुनीता यार्दे


रतलाम। जिला शिक्षा केंद्र परिसर में दोपहर को हुए जिलास्तरीय कहानी उत्सव में अतिथि के बतौर मौजूद शहर की प्रथम नागरिक महापौर डॉ. सुनीता यार्दे को बच्चों के सामने अपने बचपन की याद आ गई।
उन्होंने उत्सव के उद्घाटन के बाद जब भाषण देने की बारी आई तो वे भी अपने आप को नहीं रोक सकी और मंच से बच्चों और शिक्षकों को बचपन में सुनी कहानी को सुनाने लगी। उनकी कहानी को शिक्षकों और बच्चों ने बड़ी रुचि से सुना और जब कहानी समाप्त हुई तो सभी ने ताली बजाकर उनका स्वागत किया। प्रभारी डीपीसी डॉ. राजेंद्र सक्सेना ने बताया आयोजन के अन्य अतिथियों में जिला पंचायत उपाध्यक्ष और शिक्षा समिति अध्यक्ष डीपी धाकड़, जिला शिक्षा अधिकारी अनिल वर्मा, प्रभारी सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग संजय निर्मल प्रसाद थे। जिलास्तर के इस आयोजन में जिलेभर से आए शिक्षकों और बच्चों में से पहले तीन स्थानों पर आए शिक्षक व छात्र-छात्राओं का चयन राज्यस्तरीय कहानी उत्सव के लिए हुआ। इसमें चार शिक्षक-शिक्षिकाएं और तीन बच्चे हैं।

चौथी की बच्ची भी पहुंची कहानी सुनाने
बाजना के लालपुरा प्राथमिक विद्यालय में कक्षा चौथी में पढऩे वाले भूमि भी यहां कहानी सुनाने के लिए पहुंची। वह अपने शिक्षक के साथ थी और सबसे पहले उसका हौसला बढ़ाने के लिए उसे ही मंच पर बुलाया। आदिवासी अंचल की इस बालिका ने बेधड़क अपनी तुतलाती जुबान में कहानी सुनाई तो सभी ने तालियों से स्वागत किया।
विद्यार्थियों में केवल लड़कियां
जिलास्तरीय कहानी उत्सव की सबसे बड़ी विशेषता यह रही कि जिले के सभी विकासखंडों से प्रथम तीन विद्यार्थी और तीन टीचरों का चयन हुआ। इसमें 20 शिक्षक-शिक्षिकाएं चयनीत हुई थी जबकि 18 विद्यार्थी थे। इनमें भी लड़कियां ज्यादा थी। खास बात यह रही कि राज्य में चयनीत विद्यार्थियों में भी तीनों लड़कियां ही है।
इनका हुआ राज्य के लिए चयन

शिक्षक प्रतिनिधि
पहला स्थान - छत्रपाल देवड़ा बाजना
दूसरा स्थान - प्रगति शर्मा कन्या मावि शिवगढ़
तीसरा स्थान - विजय शर्मा आलोट व रमेशचंद्र गेहलोत खेरखूंटा सैलाना

विद्यार्थी प्रतिनिधि
पहला स्थान - मुस्कान परमार, कन्या मावि सरवन
दूसरा स्थान - पायल - मावि डीईएफ लाइन
तीसरा स्थान - कोमल मावि खारुआकला

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned