लापता युवक को देर रात घर के बाहर फैंक गए बदमाश, मौत

vikram ahirwar

Publish: Jun, 19 2017 10:22:00 (IST)

Ratlam, Madhya Pradesh, India
लापता युवक को देर रात घर के बाहर फैंक गए बदमाश, मौत

- दो दिन से था लापता, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप


रतलाम।
बिलपांक थाना क्षेत्र के मकोडि़यापाड़ा गांव में दो दिन पहले घर से खाद लेने की कहकर निकले युवक का सोमवार तड़के घर के बाहर आंगन में बेसुध पड़ा मिला। परिजन उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टर ने उसे मृत बताया। परिजनों ने मृतक की मौत को हत्या बताया है। मृतक पोस्टमार्टम डॉ. मुकेश डाबर और डॉ. दिनेश भूरिया के पैनल से हुआ। प्राथमिक रूप से मृतक के पेट में जहरीला पदार्थ होने की डॉक्टर ने पुष्टि की है।

        थाना प्रभारी हरीश जेजुलकर ने बताया कि मकोडि़यापाड़ा गांव निवासी गोपाल (30) पिता दित्या डामर शुक्रवार सुबह दोस्त प्रकाश के साथ खाद लेने की कहकर घर से निकला था। उसके बाद से ही वह लापता था। मृतक की पत्नी शकुंतला उसके बहन के यहां घाटी बड़ोदिया गई थी। बच्चे नंदनी (15), सपना (12) और जीवन (6) बड़े भाई कृष्णा के यहां पर सोए थे। सुबह जब घर बच्चों को छोडऩे भाभी आई तो उन्होंने गोपाल को बेहोशी हालत में ओटले पर पड़ा पाया। जिसके बाद सभी परिजनों को बुलाकर सुबह सात बजे ही उसे वहां से लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। जहां पर डॉक्टर ने चैकअप के दौरान उसे मृत बताया। मृतक के पिता दित्या डामर ने आरोप लगाया था कि उनके बेटे की हत्या हुई है। उनका संदेह ऊनी गांव में उनकी 15 बीघा जमीन पर बलवंत गुर्जर से विवाद था। उसने या फिर उसके दोस्त प्रकाश ने उसकी हत्या की है। देर रात को एक से दो बजे आस-पड़ोस के लोगों ने कहा कि जीप से कोई व्यक्ति उसे बाहर ही छोड़ गया था।

अब तक की जांच में यह आया सामने
थाना प्रभारी जेजुलकर ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है। मृतक के पेट में कीटनाशक दवा मिली है। इस जहर के कारण ही उसकी मौत हुई है। मौके घटना की जांच के बाद जीप चालक भी सामने आ गया है। वह मूंदड़ी निवासी आकाश है। जिसने बताया कि वह गुजरात से रतलाम आया था। उसे जीप से उसने उसके घर छोड़ा था। उस वक्त वह थोड़ी शराब के नशे में था। वहीं उसके दोस्त प्रकाश से पूछताछ में सामने आया है कि शुक्रवार को वह उसके साथ जरूर खाद लेने गया था। आधे रुपए लाने की बात कहकर उसे दुकान पर बिठाकर चला गया था। उसके बाद नहीं लौटा। उसके बाद मोबाइल बंद कर लिया था। जांच में पता चला कि वह गुजरात लीमड़ी दिनेश ठेकेदार के पास चला गया था। जहां पर पूर्व में मजदूरी कर चुका है। वहां से करीब उससे दो सौ रुपए लेकर वापस रतलाम के लिए रवाना हुआ था। वहां पर दो दिन रूका था। उसके बाद रतलाम पहुंचने के बाद जीप चालक आकाश के साथ गांव आया था। अब जहर कहां और कैसे खाया। इस मामले में पुलिस जांच कर रही है। यह भी बात सामने आई है कि पत्नी की चांदी का कड़ा ले गया था। जिसे बेचकर उसने शराब पी है। वह शराब का आदी था।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned