रेरा कानूनः बिल्डिंग के हिसाब से तय होंगे प्रोपर्टी ब्रोकर

Sunil Sharma

Publish: May, 17 2017 01:22:00 (IST)

New Category
रेरा कानूनः बिल्डिंग के हिसाब से तय होंगे प्रोपर्टी ब्रोकर

रेरा नियमों के तहत 8 फ्लैट से ज्यादा की हर बिल्डिंग का रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य है

रियल एस्टेट रेग्यूलेशन एड डेवलपमेंट एक्ट (रेरा) की उलझन में न सिर्फ बिल्डर बल्कि ब्रोकर भी उलझते जा रहे हैं। रेरा नियमों के तहत 8 फ्लैट से ज्यादा की हर बिल्डिंग का रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य है। ब्रोकरशिप कौन करेगा, ये भी पहले से ही रजिस्टर्ड कराना होगा।

अभी तक बिल्डर सीधे ही बिल्डिंगों में फ्लैट की बुकिंग करते है या फिर कोई भी ब्रोकर बिल्डिंग में फ्लैट बिकवा कर अपना कमीशन ले लेता था। अब रेरा लागू होने पर ऐसा संभव नहीं हो पाएगा। बिल्डरों को अपने प्रोजेक्ट का रजिस्ट्रेशन कराने के साथ ही ये भी तय करना होगा कि उस बिल्डिंग में फ्लैट की दलाली कौन करेगा? प्रति फ्लैट उसे इसके एवज में कितने रूपए की दलाली मिलेगी।

ब्रोकर फर्म प्रॉपर्टी बुल्स के मयूर झवेरी ने कहा, रेरा में ब्रोकर्स के लिए लिखे नियमों में साफ है कि प्रोजेक्ट के हिसाब से ही ब्रोकर का रजिस्ट्रेशन होगा। जो ब्रोकर जिस प्रोजेक्ट (बिल्डिंग) को बिकवाने का काम करेगा, उसका उसी के हिसाब से रजिस्ट्रेशन रेरा प्राधिकरण में होगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned