बुंदेली साहित्यकार को पहली बार मिलेगा हिंदी साहित्य अकादमी पुरस्कार

Widush Mishra

Publish: Jul, 18 2017 02:48:00 (IST)

Sagar, Madhya Pradesh, India
बुंदेली साहित्यकार को पहली बार मिलेगा हिंदी साहित्य अकादमी पुरस्कार

सह भाषा सम्मान से 20 जुलाई को नवाजे जाएंगे बीना के महेश कटारे सुगम

सागर. साहित्य रचना और साहित्य सेवा के मामले में बुंदेलखंड के किसी साहित्यकार को पहली बार हिंदी साहित्य अकादमी द्वारा सह भाषा सम्मान से सम्मानित किया जा रहा है। यह सम्मान बीना निवासी साहित्यकार महेश कटारे सुगम को 20 जुलाई को दिल्ली में दिया जाएगा।

महेश कटारे बुंदेली साहित्य और बुंदेली गजल लेखन के क्षेत्र में कार्य कर रहे  कटारे के अब तक दो बुंदेली गजल संग्रह प्रकाशित हो चुके हैं।  कटारे ने बताया कि उनका साहित्य कर्म मूल रूप से  दीन दुखियों गरीबों  मजदूरों  की स्थितियों पर आधारित है। उन्होंने  बुंदेली साहित्य को नई दिशा दी है। यह सम्मान बुंदेली कवि को दिया जा रहा है संभवत बुंदेलखंड में यह पहला मामला है।

स्वास्थ्य विभाग में पदस्थ रहे कटारे के 8 संग्रह आने वाले हैं।  64 वर्ष के कटारे मूल रूप से ललितपुर के निवासी हैं, लेकिन उनकी कर्म स्थली बीना है। पूर्व में उन्हें साहित्य महापरिषद गया बिहार द्वारा जनकवि नागार्जुन अलोक सम्मान से संस्कृत विश्वविद्यालय  दरभंगा बिहार की  कुलपति नीलिमा सिन्हा ने प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। यह सम्मान उनके लोक साहित्य के लिए प्रदान किया गया है। कटारे बुंदेली मे साहित्य को लेकर लगातार काम कर रहे हैं। 26 जुलाई को ग्वालियर मे जनकवि  मुकुट बिहारी सरोज सम्मान पच्चीस हजार रुपए राशि का सम्मान भी मिलेगा।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned