आॅपरेशन के बाद पेट में छोडा कपडा, संक्रमण फैलने से ​बिगडी हालत

Sagar, Madhya Pradesh, India
आॅपरेशन के बाद पेट में छोडा कपडा, संक्रमण फैलने से ​बिगडी हालत

प्रसव के दौरान नर्सें ब्लडिंग रोकने के लिए उपयोग किए गए कपड़े को बच्चेदानी से बाहर निकालना ही भूल गईं। इससे महिला की हालत बिगड़ गई। आनन-फानन में महिला को वहां से जिला अस्पताल रेफर किया गया, जहां उसका उपचार जारी है। 

सागर. गढ़ाकोटा स्वास्थ्य केन्द्र में नर्सों की लापरवाही से एक महिला की जान पर बन आई है। यहां प्रसव के दौरान नर्सें ब्लडिंग रोकने के लिए उपयोग किए गए कपड़े को बच्चेदानी से बाहर निकालना ही भूल गईं। इससे महिला की हालत बिगड़ गई। आनन-फानन में महिला को वहां से जिला अस्पताल रेफर किया गया, जहां उसका उपचार जारी है। 

डॉक्टर की अनुपस्थिति में हुई डिलेवरी
चंद्रभान ने बताया कि डिलेवरी के समय डॉ. प्रीति तिवारी नहीं थीं। उनकी अनुपस्थिति में नर्सों ने डिलेवरी कराई और लापरवाही कर बच्चेदानी से कपड़ा बाहर निकालना ही भूल गईं। चंद्रभान ने आरोप लगाते हुए कहा कि जब तबीयत खराब होने पर रश्मि को स्वास्थ्य केंद्र में दिखाया तो डॉक्टर ने उल्टा उसे ही दोषी बताया। संक्रमण के चलते रश्मि को ब्लडिंग हो रही थी। डॉक्टरों ने हालत गंभीर होने पर उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया था।

* जांच में बच्चेदानी में संक्रमण फैलना पाया गया है। बच्चेदानी में कपड़ा सड़ जाने से यह स्थिति बनी है। गलती किसकी है यह हम नहीं बता सकते।
डॉ. इंद्राज सिंह, सिविल सर्जन

*प्रसूता की डिलेवरी में यदि किसी प्रकार की लापरवाही बरती गई है तो निश्चित रूप से जांच कराई जाएगी। सिविल सर्जन क्या रिपोर्ट देते हैं, यह देखना पड़ेगा।
डॉ. एनके सैनी, प्रभारी सीएमएचओ

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned