नहीं मिला मां का दूध, 5550 नवजात डायरिया की चपेट में

Widush Mishra

Publish: Oct, 19 2016 12:54:00 (IST)

Sagar, Madhya Pradesh, India
नहीं मिला मां का दूध, 5550 नवजात डायरिया की चपेट में

ग्रामीण अंचलों में अभी भी प्रसव के बाद गर्भवती तुरंत शिशु को अपना दूध नहीं पिलाती हैं। नहाने के बाद दूध पिलाने का अंधविश्वास अभी गांवों में जारी है।

आकाश तिवारी@सागर. मां का दूध बच्चे के संपूर्ण विकास के लिए बेहद जरूरी है। जन्म से छह महीने तक शिशु को केवल मां का दूध ही पिलाना चाहिए, लेकिन कई माताएं एेसा नहीं कर रही हैं। मां के दूध से महरूम एेसे शिशु गंभीर बीमारियों की चपेट में हैं। इन बीमार शिशुओं की संख्या लगातार बढ़ रही है।

DON'T MISS: ये 7 चीजें रात में करें अवॉयड, सेहत पर पड़ता है उल्टा असर


अप्रैल से अगस्त महीने में जन्म लेने वाले 5500 से अधिक नवजात डायरिया की चपेट में आ चुके हैं। स्तनपान दिवस जैसे कई कार्यक्रम चलाकर भले ही स्वास्थ्य विभाग स्तनपान को बढ़ावा देने की बात कर रहा है, लेकिन हकीकत यह है कि अभी भी स्तनपान को लेकर माताएं गंभीर नहीं हैं।

READ ALSO: ढाई साल में 1.87 लाख में से 53 हजार को किया साक्षर


अंधविश्वास पड़ रहा स्तनपान पर भारी
ग्रामीण अंचलों में अभी भी प्रसव के बाद गर्भवती तुरंत शिशु को अपना दूध नहीं पिलाती हैं। नहाने के बाद दूध पिलाने का अंधविश्वास अभी गांवों में जारी है। तीन दिन तक नवाजत को वॉटल या फिर चम्मच से गाय, बकरी का दूध पिलाया जाता है। इसके बाद शिशु खुद ही मां का दूध नहीं पीता है। जबकि पहले दिन से मां का गाढ़ा पीला दूध बच्चे को बीमारियों से लडऩे की क्षमता पैदा करता है।


malnutrition

न्यूट्रिशियन की कमी से जूझ रही माताएं
प्रसव के दौरान पर्याप्त मात्रा में पोषण आहार न लेने के कारण प्रसव के बाद कई माताएं अपने बच्चे को चाहकर भी अपना दूध नहीं पिला पाती हैं। कमजोर होने के कारण माताओं शरीर में दूध अधिक मात्रा में नहीं बनता है। इससे नवजात शिशुओं को बाहरी दूध पिलाना पड़ता है।





शिशु के लिए छह महीने तक मां का दूध बेहद जरूरी है। देखने में आ रहा है कि कई माताएं एेसा नहीं कर रही हैं। इस वजह से डायरिया, मलेरिया जैसी बीमारी से बच्चे ग्रसित हो रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रचार-प्रसार के माध्यम से उन्हें जागरुक किया जा रहा है।
डॉ. निधि मिश्रा, स्त्री रोग विशेषज्ञ बीएमसी

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned