शिक्षक बने कमिश्नर, बच्चों को पढ़ाया सफलता का पाठ 

Satish Likhariya

Publish: Feb, 17 2017 02:13:00 (IST)

sagar
शिक्षक बने कमिश्नर, बच्चों को पढ़ाया सफलता का पाठ 

सागर.कमिश्नर डॉ. मनोहर अगनानी बुधवार को मालथौन ब्लॉक की महिला पंचायत हड़ली पहुंचे। यहां उन्होंने मिडिल स्कूल के विद्यार्थियों को पढ़ाया। उनसे सवाल किए। 

सही जवाब देने वालों को शाबाशी दी तो कमजोर छात्रों को मेहनत कर आगे बढऩे के लिए प्रोत्साहित किया। वे प्राइमरी और आंगनबाड़ी के बच्चों से भी मिले। कमिश्नर डॉ. अगनानी ने मिल बांचें मध्यप्रदेश कार्यक्रम के तहत हड़ली मिडिल स्कूल का पंजीयन कराया था। 
इस दौरान पंचायत सहित आसपास के क्षेत्र के लोग भी कमिश्नर से मिलने पहुंचे। डॉ. अगनानी ने कहा कि पंचायत द्वारा किए जा रहे विशेष कार्यों खासकर गणतंत्र दिवस पर हुई ग्राम सभा में बेटी-बचाओ, बेटी-पढ़ाओ को बढ़ावा देने के उद्देश्य से लिए गए निर्णय से प्रभावित होकर ही मैंने हड़ली का चयन किया। 
इस दौरान कमिश्नर ने लोगों से भी मुलाकात की। ग्रामीणों ने शिकायत में बताया कि किसी की खाद्यान्न पर्ची अचानक काट दी गई तो किसी को पेंशन नहीं मिल रही है। कुछ लोगों ने पेयजल की समस्या भी बताई। अतिक्रमण आदि की समस्याएं भी सामने आईं। इस पर कमिश्नर ने मौके पर मौजूद खुरई एसडीएम अरुण कुमार सिंह को निर्देश दिए कि इन समस्याओं के निराकरण के लिए एक शिविर लगाएं। इसके बाद मैं दोबारा यहां आऊंगा। फिर भी लोगों की समस्याएं बरकरार रहीं तो जिम्मेदारों पर कार्रवाई होगी।
23 को लगाएंगे शिविर : एसडीएम
एसडीएम अरुण सिंह ने कमिश्नर के निर्देश के बाद कहा कि पंचायत में 23 फरवरी को लोक कल्याण शिविर लगाया जाएगा। इसमें सारे विभागों के अधिकारी मौजूद रहेंगे। पंचायत के अंतर्गत आने वाले तीनों गांव हड़ली, बोबई एवं मड़ावनमार के लोगों की जितनी भी समस्याएं होंगी, उनका मौके पर ही निराकरण किया जाएगा।
सरपंच से की बात, प्रयासों को सराहा
कमिश्नर ने पंचायत की सरपंच लीलाबाई अहिरवार से बात की। उन्होंने यह भी जानना चाहा कि दरअसल बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की बात करने वाली पंचायत में महिलाओं को कितने अधिकार प्राप्त हैं। उन्होंने सरपंच से पंचायत की स्थिति जानी, लोगों से भी सवाल-जवाब किए। आखिर में कहा कि सभी मिलकर काम करें। अपने अधिकार पहचानें और हड़ली को आदर्श पंचायत बनाएं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned