ओवैसी ने पूछा सीएम अखिलेश से मुस्लिमों से किए गए ये वादे क्‍यों नहीं हुए पूरे

Noida, Uttar Pradesh, India
ओवैसी ने पूछा सीएम अखिलेश से मुस्लिमों से किए गए ये वादे क्‍यों नहीं हुए पूरे

AIMIM प्रमुख आेवैसी ने कैराना में सपा सरकार पर बड़ा हमला

शामली. एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में लाॅ एंड आर्डर पर कंट्रोल नहीं कर पाई है। तीन साल में मुजफ्फरनगर समेत 12 हजार दंगे-फंसाद हुए हैं। मजलूमों का दुख-दर्द मुसलमानों का नहीं, बल्कि सभी का दर्द है। उन्होंने कहा मैं सांप्रदायिक एवं सांप्रदायिकता नहीं फैलाता। मुझे तीन साल में सरकार ने यहां नहीं आने दिया और अब साइकिल में पंक्‍चर हो गई है। उक्त विचार ओवैसी ने स्थानीय कांधला रोड पर जनसभा को संबोधित करते हुए व्यक्त किए।

शुक्रवार को कैराना में कांधला रोड पर ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के कार्यकर्ताओं द्वारा जनसभा का आयोजन किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम के बीच दोपहर 3.25 बजे पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी भी मंच पर पहुंचे। जहां कार्यकर्ताओं ने माला डालकर उनका अभिनंदन किया। इस मौके पर संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा कि पिछले 70 सालों से मुसलमानों द्वारा अन्य पार्टियों को वोट दिया जा रहा है। आप सबके बीच में एक सवाल छोड़कर जा रहा हूं। एक बेटा बाप का नहीं हुआ। बेटे को बाप पर विश्वास नहीं है। प्रदेश का विकास नहीं हुआ। सिर्फ यादव परिवार का विकास हुआ है।

उन्होंने कहा कि किसान और दलितों का कोई विकास नहीं किया गया। अखिलेश जब चाचा को हजम नहीं कर सके तो आप सबको को कैसे सम्मान देंगे। उन्होंने कहा कि मुसलमानों को आबादी के लिए रिजर्वेशन दिया जाएगा, लेकिन यह वादा पूरा नहीं किया गया। सच्‍चर कमेटी का वादा किया था कि बराबरी होगी। मुस्लिम इलाकों में प्राइमरी पाठशाला, मुस्लिम लड़कियों को पढ़ाई के बाद 30 हजार रुपये दिए जाएंगे, उर्दू के स्कूल में प्रदेश में खोले जाएंगे, मुस्लिमों की भर्ती पुलिस में कराई जाएगी, अखिलेश तुम ही बताओ क्या यह सब वादे पूरे किए गए हैं।

उन्होंने कहा कि वक्फ की जायदाद को कब्जों से मुक्त कराया जाएगा, लेकिन कुछ नहीं हुआ। फिरका परस्ती (सांप्रदायिकता) की बात नहीं कर रहा हूं, संविधान की बात कर रहा हूं। समाजवादी के नेताओं के घर में बैठकर बहस करने को तैयार हूं। ओवैसी ने कहा कि भाजपा हमसे डरती है, जिसे डराकर रहेंगे। राॅकेट में बैठकर उड़ने का समय आ गया है। 70 साल से कांग्रेस, आरएलडी, जनता दल आदि पार्टियों को वोट किया है। मैं अपनी वाली नसलों की कामयाबी के लिए आप लोगों से भीख मांग रहा हूं। उन्होंने कहा कि लाॅ एंड आर्डर की स्थिति काबू करने में समाजवादी सरकार विफल रही है। तीन साल में 12 हजार दंगे-फसाद हुए हैं। उन्होंने कहा कि पिछले तीन सालों में मुजफ्फरनगर और शामली में उसकी सभा-जलसों पर प्रदेश हुकूमत ने रोक लगा रखी थी। ताजिरों को लूटा जाता है। प्रदेश में यादव वाद है परिवार वाद है। मैं सांप्रदायिक नहीं हूं। मैं मुसलमान हूं, लेकिन किसी भी दूसरे मजहब के खिलाफ नहीं हूं।

उन्होंने कहा कि संविधान में दफा 14,15,20 व 350 की बात कर रहा हूं। संविधान की किताब साथ लेकर आया हूं। मैं मजहब के लिए वोट मांगने नहीं आया हूं। सिर्फ 11 फरवरी में चुनाव के दिन जालिमों को फाड़कर रख दो। उन्होंने कहा कि मां-बहनों की इज्जत लूटी गई, सिर्फ पांच लाख रुपये ले लो। उन्होंने कहा कि हम आखिर कब तक इन लोगों की गुलामी सहते रहेंगे। असदुद्दीन औवेसी ने कहा कि 1400 वर्षों से पहला इतिहास गवाह है, जिसके पास हौंसला होगा, सब ताकत उसके सामने घुटने टेक देगी। तुम्हारा यह प्रिय हिंदुस्तान की पार्लियामेंट में 540 सांसदों के बीच में जब तुम्हारा दीवाना उठता है तो सब देखते रहते हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी के सामने ससुरे-बहु-बेटे कामयाब हो गए, तुम नाकाम हुए और मोदी वजीर आजम हो गए। इसी बीच 4.16 मिनट पर अजान होते समय औवेसी ने करीब 25 मिनट के संबोधन के बाद अपना भाषण रोक दिया।

इसके बाद 4.19 पर फिर उन्होंने माइक थाम लिया और कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा कोई वादे पूरे नहीं किए गए। मेरे पास रिकाॅर्ड है। आज हमारी पार्टी तुम्हारी पार्टी है। मजलिस के हक में वोट का इस्तेमाल करो। उन्होंने कहा कि मोदी जी कहते हैं कि देश में ब्लैकमनी आएगी। गरीब लोगों पर कहां ब्लैकमनी है, जो सबको लाइन में लगवा दिया।

उन्होंने कहा कि एक जवान सरहद पर कहता है कि हमें सूखी रोटी मिलती है। हमको बराबर राशन भी नहीं मिलता तो उसकी कोई सुनवाई नहीं होती। अच्छे दिन आए 500 का गायब 1000 का गायब। उन्होंने कहा कि किसान के गन्ने का पैमेंट बकाया है। किसानों का भुगतान नहीं हुआ। जगह-जगह रोजगार ठप हो गए। नोटबंदी से हिंदुस्तान का सत्यानास हो गया। लोगों की नौकरियां छूट गई। तुम बाबा-बेटे-बुआ-भतीजे मोदी पर विश्वास मत करो।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned