अधिवक्ता की चाकू मारकर हत्या, विरोध में वकीलों ने किया काम बंद

Indresh Gupta

Publish: Jan, 14 2017 06:01:00 (IST)

Samastipur, Bihar, India
अधिवक्ता की चाकू मारकर हत्या, विरोध में वकीलों ने किया काम बंद

जिलाधिकारी ने शिष्टमंडल की बातों को गंभीरता से लेते हुए अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी करने तथा स्पीडी ट्रायल के तहत सजा दिलाए जाने का आश्वासन दिया।

समस्तीपुर। जिले के ताजपुर थाना के ढिघरुआ गांव में कुछ अपराधियों ने प्रमोद सिंह नामक अधिवक्ता को चाकू मारकर मौत के घाट उतार दिया। घटना की सूचना मिलने पर सदर अस्पताल पहुंचे सदर डीएसपी ने बताया कि दो आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले की छानबीन की जा रही है।

घटना के संबंध में बताया गया है कि ढिघरुआ निवासी प्रमोद सिंह की मां गिरजा देवी से गांव के ही बबलू सिंह नामक युवक ने कुछ दिन पहले पांच सौ रुपया उधार लिया था। इसी को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ। जिसे आसपास के लोगों ने बीचबचाव कर शांत कर दिया।

लेकिन शाम को जैसे ही प्रमोद समस्तीपुर न्यायालय से घर पंहुचे, इस बात को लेकर फिर से विवाद होने लगा। इसी क्रम में बबलू सिंह, पंकज सिंह, अर्जुन सिंह समेत करीब 8 की संख्या में लोग प्रमोद के घर आ पहुंचे। आरोप है आरोपियों ने घर के लोगों को बंधक बना प्रमोद पर चाकुओं से ताबड़तोड़ वार कर दिया।

ग्रामीणों ने जख्मी हालात में उसे लेकर समस्तीपुर के निजी किलनिक पहुंचे, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। इधर मामले की सूचना पर पहुचे थानेदार मनोज कुमार ने घटना के आरोपी अर्जुन सिंह और सोनू सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। अधिवक्ता साथी की हत्या से आहत कोर्ट के अधिवक्ताओं ने जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया।

हत्यारो को सजा दिलाने की मांग

बाद में एक शिष्टमंडल जिलाधिकारी से मिलकर मांगों का ज्ञापन सौंपा। जिसमें आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने एवं अधिवक्ता के आश्रित को 20 लाख रुपये दिए जाने के साथ एक आश्रित को सरकारी नौकरी दिए जाने समेत अन्य मांग शामिल रही। जिलाधिकारी ने शिष्टमंडल की बातों को गंभीरता से लेते हुए अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी करने तथा स्पीडी ट्रायल के तहत सजा दिलाए जाने का आश्वासन दिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned