प्रधान आरक्षक ने महिला आरक्षक को लगाई ढाई लाख की चपत, 2 पर FIR

Pranayraj rana

Publish: Feb, 16 2017 10:26:00 (IST)

Ambikapur, Chhattisgarh, India
प्रधान आरक्षक ने महिला आरक्षक को लगाई ढाई लाख की चपत, 2 पर FIR

जमीन दिलाने के नाम पर फर्जीवाड़ा, महिला आरक्षक ने एसपी से की थी मामले की शिकायत, सीएसपी की जांच में मामला सही होने पर प्रधान आरक्षक व उसके रिश्तेदार के खिलाफ जुर्म दर्ज

अंबिकापुर. जमीन दिलाने के नाम पर एक प्रधान आरक्षक व उसके रिश्तेदार द्वारा महिला थाने में पदस्थ एक आरक्षक से ढाई लाख रुपए की ठगी कर ली गई। शिकायत पर एसपी के निर्देश पर पूरे मामले की जांच सीएसपी द्वारा की गई थी। जांच के बाद पूरे मामले को सही पाया गया। गुरुवार को पुलिस ने गांधीनगर थाने में प्रधान आरक्षक व उसके रिश्तेदार के खिलाफ फर्जीवाडा का मामला दर्ज कर लिया गया है।

जानकारी के अनुसार महिला थाना में पदस्थ महिला आरक्षक सविता मरावी को ओरिएंटल स्कूल के समीप जमीन खरीदी करना था। इस संबंध में उसने बतौली में पदस्थ प्रधान आरक्षक जय प्रकाश आगरे से चर्चा की और कहा कि स्कूल के आसपास कोई जमीन होगी तो बताना।

जय प्रकाश आगरे की भतीजी सूरजमति पति विन्देश्वर अगरिया की 25 डिसमिल जमीन बताकर उसमें से 5 डिसमिल बेचने की बात की गई। इस संबंध में बिन्देश्वर द्वारा कई बार महिला आरक्षक से किसी न किसी बहाने रुपयों की मांग की जाती थी। आरक्षक ने जमीन खरीदने के लिए किश्तों में बिन्देश्वर को पहले 2 लाख रुपए दिए थे।

बाद में प्रधान आरक्षक जय प्रकाश व बिन्देश्वर द्वारा उसे 10 डिसमिल जमीन खरीदने हेतु दबाव बनाया गया और फिर से किश्त में 50 हजार रुपए की मांग की गई। महिला आरक्षक ने कुल ढाई लाख रुपए देने के बाद जमीन की रजिस्ट्री करने की बात कही। लेकिन प्रधान आरक्षक व बिन्देश्वर अब पूरा 25 डिसमिल जमीन खरीदने के लिए उसपर दबाव बनाने लगे।

दोनों का मन भापकर महिला आरक्षक ने जमीन खरीदने से इनकार कर दिया और पूरे रुपए वापस मांगने लगी। लेकिन उसे न तो रुपए वापस किए गए और न ही जमीन की रजिस्ट्री की गई। इसपर महिला आरक्षक ने एसपी आरएस नायक के समक्ष लिखित में शिकायत पेश की थी। एसपी ने मामले की जांच की जवाबदारी सीएसपी आरएन यादव को सौंपी थी।

जांच में सीएसपी ने मामले को सही पाया और गुरुवार को गांधीनगर थाने में जुर्म दर्ज करने के लिए आवेदन भेज दिया। गांधीनगर टीआई व प्रशिक्षु डीएसपी पुष्पेन्द्र बघेल ने मामले में प्रधान आरक्षक जय प्रकाश आगरे व उसके रिश्तेदार बिन्देश्वर अगरिया के खिलाफ धारा 420 व 34 के तहत जुर्म दर्ज कर लिया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned