गला रेतकर जिस बालक की हत्या हुई वह KORBA का निकला

Pranayraj rana

Publish: May, 15 2016 12:44:00 (IST)

Ambikapur, Chhattisgarh, India
गला रेतकर जिस बालक की हत्या हुई वह KORBA का निकला

रिश्तेदार के घर उदयपुर आए पिता ने की शव की पहचान, लगाया नरबलि का आरोप, पुलिस मामले की जांच में जुटी, कहा जल्द पकड़ा जाएगा आरोपी

लखनपुर. ग्राम पंचायत तुनगा में शुक्रवार को रेण नदी के तट पर झाड़ी में एक बालक का गला रेता हुआ शव मिला था। अज्ञात आरोपी ने धारदार हथियार से बालक की बेदर्दी से हत्या कर उसके बाएं हाथ की हथेली भी काट दी थी। शनिवार को मृतक की शिनाख्त कोरबा जिला के ग्राम कुदरी निवासी 12 वर्षीय सूरज धनुहार के रूप में हुई। मृतक के पिता ने नरबलि की आशंका व्यक्त की है।

 पुलिस ने बताया कि ग्राम कुदरी निवासी ईश्वर लाल तिर्की अपने रिश्तेदार के घर उदयपुर आया था। इसी के माध्यम से एएसआई विनोद खांडे की सक्रियता से मृतक के परिजन तक पुलिस पहुंची। फिर शनिवार को मृतक का पिता चमरू धनुहार लखनपुर पहुंचा शव देखकर उसकी पहचान अपने बेटे के रूप में की।

उसने पुलिस को बताया कि बीते मंगलवार को सूरज अपने दोस्त के साथ नजदीक के ग्राम धमकी अपनी बुआ के घर गया था। उसे बुधवार की देर शाम वहां से किसी अज्ञात शख्स जिसने खाखी रंग के कपड़े पहने हुए थे, मुर्गा खिलाने के नाम पर अपने साथ ले गया था। इसके बाद सूरज के घर नहीं पहुंचने पर परिजन ने स्थानीय चिगार थाने में गुमशुदगी भी दर्ज कराई थी।

मृतक के पिता ने आरोप लगाया कि आरोपी ने उसके बेटे की बलि दी है। उसने पुलिस से आरोपी को जल्द से जल्द पकडऩे की मांग की है। वहीं शाम को  मामले की जांच की स्थिति जानने एसपी आरएस नायक भी थाने पहुंचे। उन्होंने भी मृतक के पिता से आवश्यक जानकारी ली।

एसपी ने बताया कि आरोपी ने बालक की हत्या कहीं और कर फिर उसके शव को रेण नदी के तट पर फेंका है। एसपी ने कहा कि यह नरबलि का मामला नहीं है। उन्होंने कहा कि मृतक की शिनाख्त हो गई है अब पुलिस आरोपी को भी जल्द ही पकड़ लेगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned