बोर्ड परीक्षा में 90 फीसदी से अधिक अंक मिले तो दोबारा होगी उत्तरपुस्तिका की जांच

suresh mishra

Publish: Mar, 20 2017 08:22:00 (IST)

Satna, Madhya Pradesh, India
 बोर्ड परीक्षा में 90 फीसदी से अधिक अंक मिले तो दोबारा होगी उत्तरपुस्तिका की जांच

10वीं और 12वीं कक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का पहल चरण सोमवार से शुरू होगा। चार शिक्षकों के बीच एक उप मूल्यांकनकर्ता नियुक्त किया गया है।


सतना
10वीं और 12वीं कक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का पहल चरण सोमवार से शुरू होगा। प्रत्येक जांचकर्ता को हर दिन साढ़े पांच घंटे (सुबह 10.30 से शाम 5 बजे तक) में अधिकतम 45 और न्यूनतम तीस उत्तर पुस्तिकाओं की जांच करना अनिवार्य होगा। चार शिक्षकों के बीच एक उप मूल्यांकनकर्ता नियुक्त किया गया है।

बेहतर अंक प्राप्त करने वाले परीक्षार्थी की उत्तरपुस्तिक शिक्षक के बाद उप और मुख्य मूल्यांकनकर्ता को जांचना अनिवार्य होगा। 90 फीसदी से अधिक अंक प्राप्त करने वाले परीक्षार्थी की उत्तरपुस्तिका की जांच मुख्य मूल्यांकनकर्ता को करना अनिवार्य होगा।


10वीं की गणित का पर्चा आज
जिले के 131 हाईस्कूल में 37742 बच्चों का कक्षा 10वीं में दखिला है। सोमवार सुबह 8.30 बजे से 102 परीक्षा केंद्रों में गणित विषय की परीक्षा आयोजित जाएगी। केंद्रों में नकल रोकने पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।


परीक्षा और मूल्यांकन साथ-साथ

9वीं और 11वीं की परीक्षा 3 अप्रैल से आरंभ होंगी। यह दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक चलेगी। परीक्षा और मूल्यांकन एक समय में होने से बोर्ड परीक्षा की उत्तरपुस्तिकाओं की जांच पर भी असर पड़ेगा। हालांकि मूल्यांकन कार्य प्रभावित न हो, इसको लेकर कवायद की जा रही है।

बदले गए मूल्यांकन केन्द्र प्रभारी

मूल्यांकन के लिए नए केन्द्र प्रभारी की नियुक्ति की गई है। जिला शिक्षाधिकारी नीरव दीक्षित ने उत्कृष्ट विद्यालय व्यंकट वन में होने जा रहे मूल्यांकन के लिये केन्द्र प्रभारी उमावि सोहावल के प्राचार्य रामजी शर्मा को नियुक्त किया है। इनके पहले यह जिम्मेदारी व्यंकट वन के प्राचार्य मोले सिंह के पास थी लेकिन अनियमितता के मामले में निलंबित किये जाने के बाद नई नियुक्ति की गई है। जिला शिक्षाधिकारी दीक्षित ने बताया कि प्रथम चरण में मूल्यांकन कार्य के लिये लगभग 1300 मूल्यांकन कर्ताओं की विषयवार नियुक्ति की गई है। कलेक्टर द्वारा निरीक्षण के लिये आरसी दुबे सेवा निवृत्त अपर कलेक्टर को प्रेक्षक के रूप में नियुक्त किया गया है। उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का द्वितीय चरण का मूल्यांकन 4 अप्रैल से प्रारंभ होगा।

5वीं-8वीं के प्रश्न पत्रों का वितरण 21 को
कक्षा 5वीं और 8वीं की परीक्षा के लिए प्रश्र पत्रों का वितरण 21 मार्च को दोपहर एक बजे से उत्कृष्ट विद्यालय व्यंकट क्रमांक एक से किया जाएगा। इन परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने परीक्षा के बाद उसी दिन निर्धारित मूल्यांकन केन्द्र में भिजवाई जाएंगी। मूल्यांकन के लिये सभी संकुल केन्द्रों को मूल्यांकन केन्द्र निर्धारित किया गया है तथा संकुल प्राचार्य मूल्यांकन केन्द्राध्यक्ष रखे गये हैं। कक्षा 8वीं के वार्षिक परिणाम में जिन विद्यार्थियों को डी और ई ग्रेड मिलेगा उनकी शाला स्तर पर विशेष कक्षाएं निर्धारित अवधि में लगवा कर दक्षता पूरी करवा कर शाला स्तर पर दोबारा मूल्यांकन कराया जाएगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned