मुख्यमंत्री ने हटाई, सिपहसलारों को अभी भी लाल बत्ती से मोह

bharat pandey

Publish: Apr, 21 2017 12:53:00 (IST)

sehore
मुख्यमंत्री ने हटाई, सिपहसलारों को अभी भी लाल बत्ती से मोह

सीहोर जिले के आधा दर्जन नेताओं में से एक ने भी नहीं दिखाया अपने वाहन से बत्ती हटाने का साहस

सीहोर. प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भले ही अपने वाहन से लाल बत्ती हटा ली है, लेकिन उनके गृह जिले के आधा दर्जन निगम अध्यक्ष और आयोग सदस्य ने अपने वाहनों से लाल बत्तियां हटाने हिम्मत नहीं जुटाई है। यहीं हाल अफसरों का भी है। अधिकारियों ने भी अपने वाहनों से अभी तक नीली और पीली बत्तियां नहीं हटाई हैंं। जिला परिवहन विभाग का कहना है कि अभी अधिकृत रूप से किसी ने भी बत्तियां उतारने जानकारी नहीं दी है।

मोदी सरकार ने वीवीआईपी कल्चर को खत्म करते हुए लाल बत्ती के इस्तेमाल पर अंकुश लगाने का फैसला लिया है। एक मई को मजदूर दिवस से यह फैसला लागू होगा। केन्द्र सरकार के निर्णय के पालन में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपने वाहन से लाल बत्ती उतार चुके हैं। मीडिया में बत्ती लगे वाहनों कवरेज की भनक लगते ही कुछ जनप्रतिनिधि हरकत में आ गए और अपने वाहनों से बत्तियां उतार ली। इनमें गुरुप्रसाद शर्मा, रमाकांत भार्गव ,उर्मिला मरेठा के नाम सामने आए हैंं।

अफसरों के वाहनों पर भी सजी रहीं नीली और पीली बत्तियां
जिले में जनप्रतिनिधियों के अलावा अफसर भी पीली, नीली बत्तियों का मोह नहीं त्याग पाए हैं। जिला कलेक्ट्रेट में कलेक्टर सुदाम खाड़े सहित एडीएम, डिप्टी कलेक्टर सभी के वाहनों पर बत्तियां लगी नजर आई। जिला कलेक्ट्रेट परिसर में गुरुवार को अफसरों के वाहनों पर बत्तियां लगी हुई थीं।

जिले में इन जनप्रतिनियों के पास है लाल बत्ती
गुरुप्रसाद शर्मा, अध्यक्ष, वन विकास निगम
राजेन्द्र सिंह राजपूत, अध्यक्ष वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन
रमाकांत भार्गव, अध्यक्ष मार्कफेट
सूर्या चौहान, सदस्य राज्य महिला आयोग
 शिव चौबे, अध्यक्ष खनिज विकास निगम
 उर्मिला बरेठा अध्यक्ष, जिला पंचायत
निर्मला बारेला, सदस्य मप्र बाल अधिकार सरंक्षण आयोग

अधिकारियों के वाहनों से अभी बत्तियां उतारने के संबंध में अधिकृत रूप से कोई जानकारी सरकार से नहीं मिली है। आदेश आने के साथ कार्रवाई की जाएगी। सुदाम खाड़े, कलेक्टर सीहोर
अभी सरकार के फैसले का अधिकृत रूप से कोई जानकारी नहीं आई है।इसके साथ ही जिले में किसी भी जनप्रतिनिधि और अफसरों ने अपने वाहनों से लाल, नीली, पीली बत्तियां उतारने की कोई सूचना नहीं दी है। प्रमोद कापसे, जिला परिवहन अधिकारी सीहोर

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned