मिलावट दिखे तो फोन पर दें जानकारी, करेंगे कार्रवाई

Sehore, Madhya Pradesh, India
मिलावट दिखे तो फोन पर दें जानकारी, करेंगे कार्रवाई

बुधवार को एसडीएम राजकुमार खत्री ने कुछ ऐसे ही निर्देश तहसीलदार, पटवारी और आरआई को दिए हैं। एसडीएम ने निर्देश दिए हैं कि खाद्य एवं औषधि प्रशासन के साथ राजस्व अमला भी त्योहार पर मिलावट के कारोबार पर नजर रखे। 

सीहोर. सिंथेटिक दूध और मावा में यूरिया खाद, कपड़े धोने का सोडा जैसे हानिकारक पदार्थ मिलाए जाते हैं। सिंथेटिक दूध और मावा के उपयोग से कैंसर और लीवर खराब होने का खतरा रहता है। सिंथेटिक मावा और दूध से बनी मिठाई बेचने की शिकायत मिलती है तो ठीक नहीं होगा।  बुधवार को एसडीएम राजकुमार खत्री ने कुछ ऐसे ही निर्देश तहसीलदार, पटवारी और आरआई को दिए हैं। एसडीएम ने निर्देश दिए हैं कि खाद्य एवं औषधि प्रशासन के साथ राजस्व अमला भी त्योहार पर मिलावट के कारोबार पर नजर रखे।  एसडीएम ने बताया कि मिलावटी सामग्री की उपभोक्ता उनके मोबाइल नंबर 9424696300 पर भी शिकायत कर सकते हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned