मांगों पर विचार न करने पर आंदोलन का अल्टीमेटम

Prashant Sahare

Publish: Jan, 13 2017 11:16:00 (IST)

seoni
मांगों पर विचार न करने पर आंदोलन का अल्टीमेटम

कृषि संविदा कर्मियों ने सौंपा ज्ञापन


सिवनी.  कृषि संविदा अधिकारी-कर्मचारी संघ, भोपाल के प्रदेश इकाई के आव्हान पर कृषि संविदा अधिकारी-कर्मचारी संघ, जिला इकाई सिवनी के द्वारा जिला अध्यक्ष अनुराग पाठक के नेतृत्व में सात सूत्रीय मांगों का ज्ञापन अपर कलेक्टर को सौंपा गया। वहीं मांगों पर सार्थक समाधान न मिलने पर आंदोलन का अल्टीमेटम भी दिया गया है।
जिला अध्यक्ष अनुराग पाठक द्वारा बताया गया कि भारत सरकार ने कृषकों की आय को दोगुना करने का संकल्प एवं राज्य सरकार ने कृषि को लाभ का धन्धा बनाने का संकल्प, अनेकों मंचों से अनेकों बार प्रसारित किया है। लेकिन इस संकल्प को उच्च योग्यताधारी एवं अनुभवशील कर्मचारियों अथवा सहायक अमले के बिना उद्देश्य व संकल्प पूर्ति संभव नहीं है।    
ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि विभाग में कार्यरत, अनुभवशील कृषि संविदा कर्मचारियों की 7 सूत्रीय मॉग निराकरण के लिए प्रस्तुत की है। जिसमें मुख्य रुप से पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के संविदा कर्मचारियों की भांति, कृषि संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण किया जाए, कमेटी गठित करके संविलियन की नीति बनाई जाए एवं तिलहन संघ के कृषि कर्मचारियों की भॉंति, उच्च योग्यताधारी वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी व कृषि विकास अधिकारी एवं कम्प्यूटर प्रोग्रामर, लेखापाल सह लिपिक को सहायक ग्रेड एवं लेखापाल को विभाग में लम्बे समय से रिक्त नियमित पदों पर संविलियन किया जाए। इसी तरह अन्य मांगें रखी गईं। वहीं कहा कि मांग पर जल्द सकारात्मक कार्रवाई की जाए, अन्यथा संविदा कर्मी संघ मांगों पर आंदोलन की राह पर अग्रसर होगा।
ज्ञापन सौंपने पहुंचे संविदा कर्मियों में जिला अध्यक्ष अनुराग पाठक, जिला सचिव लिपिक चन्द्र पवार, देवेश वानखेडा, जगदीश आरसे, नेहा श्रीवास्तव, स्वाति गोल्हानी, जाग्रति पाण्डेय, उमाशंकर समस्त आत्मा, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन, मृदा परीक्षण प्रयोगशाला में कार्यरत कृषि संविदा कर्मचारी उपस्थित थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned