लोगों ने लगाया जाम

Prashant Sahare

Publish: Nov, 30 2016 08:01:00 (IST)

Seoni, Madhya Pradesh, India
लोगों ने लगाया जाम

लोगों ने सुबह साढ़े 10 बजे एसडीएम तिराहे पर चक्का जाम कर दिया जिससे दोनो ओर बसों सहित छोटे वाहनो की कतार लग गईं।


सिवनी/ लखनादौन. मंगलवार को बालाघाट से जबलपुर की ओर जाने वाली तेज रफ्तार बस क्र. एमपी 50 पी 1080 ने रघुनाथ कालोनी में एक बच्चे को रौंद दिया था। जबलपुर में इलाज के दौरान बच्चे ने दम तोड़ दिया है। राज पिता धनाराम गोल्हानी अपने घर से निकलकर डिवाइडर पार कर रहा था तभी यह हादसा हुआ।
सडक चौडीकरण के बगैर बने डिवाइडर
बच्चे की मौत की खबर आने से पूरे नगर में आक्रोश का माहौल बन गया और बुधवार को नागरिकों ने एसडीएम निवास के सामने तिराहे को जाम कर दिया। पेट्रोल पम्प से हनुमान मंदिर नरसिंहपुर रोड तक बिना सडक चौडीकरण के डिवाइडर के निर्माण और पोल लगने से रास्ता पहले ही संकरा हो गया है और लम्बे रूट में चलने वाली बसें अपना टाइम मिलाने के लिए पेट्रोल पम्प से बस स्टैण्ड तक तेज रफ्तार और हार्न बजाते हुए चली आती हैं। जिसके चलते दुर्घटनाओं का अंदेशा बना रहता है। लोगों ने सुबह साढ़े 10 बजे एसडीएम तिराहे पर चक्का जाम कर दिया जिससे दोनो ओर बसों सहित छोटे वाहनो की कतार लग गईं। लोगों की मांग थी कि पेट्रोल पम्प से नरसिंहपुर रोड स्थित हनुमान मंदिर तक और पेट्रोल पम्प से घंसौर रोड स्थित कॉलेज तक स्पीड ब्रेकर लगाए जाएं। स्कूल खुलने और बंद होने के समय दो-दो घंटे के लिए भारी वाहनों की नो एन्ट्री लागू हो, सडक के दोनों ओर खडे वाहनों पर तत्काल चालानी कार्रवाई हो जो निरंतर जारी रहे।
जाम की खबर पहुंचते ही नगर निरीक्षक शिवराज सिंह अपने अमले के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और  लोगों को समझाइश दी परंतु जन समुदाय की मांग थी कि प्रशासनिक अधिकारी मांगों की पूर्ति के लिए लिखित आश्वासन दें। जिसके बाद लखनादौन तहसीलदार मीना मेहरा एसडीएम तिराहे पहुंची और नगर परिषद के सीएमओ राधेश्याम चौधरी, उपयंत्री लोकेश नायक को मौके पर बुलाकर तत्काल सर्वे करने और स्पीड ब्रेकर लगाये जाने के आदेश दिए।
नगर परिषद में हुई बैठक
जाम खुलने के बाद नगर परिषद में एक बैठक आहूत की गई जिसमें प्रशासनिक अधिकारी जनप्रतिनिधि एवं नगर के पार्षद और नागरिक शामिल हुए और नगर की यातायात व्यवस्था को दुरूस्त करने, दुर्घटनाएं रोकने संबंधी विषय पर विचार विमर्श के बाद सर्वसम्मति से निर्णय लिए गए जिसके अनुसार नगर के चौराहों, स्कूलों एवं अन्य चिन्हित स्थानों में तत्काल स्पीड ब्रेकर बनाने का कार्य प्रारंभ किया जाएगा। शहर में सडक के दोनो तरफ  या पुल के उपर खड़े वाहनों में चालानी कार्रवाई की जाएगी। शहर के अंदर नोएन्ट्री के समय का कडाई से पालन कराया जाएगा। सड़क पर अतिक्रमण पर कार्रवाई होगी।  नगर के मुख्य मार्ग में दस स्थानों की पहचान कर स्पीड ब्रेकर बनाए जाएंगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned