यहां कीमती गाडिय़ां भी हो रही हैं कबाड़

sunil vanderwar

Publish: Jun, 20 2017 11:52:00 (IST)

Seoni, Madhya Pradesh, India
यहां कीमती गाडिय़ां भी हो रही हैं कबाड़

पुलिस थानों में सुरक्षा की कमी, अनदेखी से हो रही बर्बादी


सिवनी. जिले के पुलिस थानों में करोड़ों रुपए के छोटे-बड़े वाहन कंडम हो रहे हैं। इन वाहनों को समय-समय पर होने वाली कार्रवाई के दौरान या तो जब्ती में लिया गया है या पुलिस की कार्रवाई के दौरान अपराधी वाहन छोड़कर भाग गए। पुलिस थानों में खड़े वाहनों में सबसे ज्यादा संख्या दुपहिया, सड़क हादसे या अवैध परिवहन में पकड़े गए वाहनों की है।
मिली जानकारी के अनुसार बदमाशों द्वारा चोरी किए गए वाहन और हादसे का कारण बने वाहनों की संख्या सबसे ज्यादा है, जो कार्रवाई के अभाव में खड़े हैं, वहीं चारपहिया वाहनों की भी संख्या कम नहीं है। थानों में कंडम हो रहे इन वाहनों की लागत का अनुमान लगाया जाए तो यह करीब दो करोड़ रूपए से ज्यादा के होंगे।
इधर पुलिस अधिकारी वाहनों को नीलाम करने के अधिकार न होने के कारण कोई कार्रवाई नहीं कर पा रहे हैं। वाहनों के थाने में खड़े होने से अचल संपत्ति का बड़ी संख्या में नुकसान तो हो ही रहा है, थानों का एक बड़ा हिस्सा इनसे घिरा हुआ है। इनकी भौतिक स्थिति का अवलोकन किया जाए तो ज्यादातर वाहनों में या तो जंग लग गई है या फिर कोई न कोई हिस्सा गायब हो चुका है।
सुरक्षित नहीं हैं वाहन -
पुलिस के द्वारा जब्त कर वाहन को थाने में खड़ा किया गया है, किंतु थाने में खड़े वाहन सुरक्षित नहीं हैं। कोतवाली सहित जिले के 16 थाने और चौकियों में चोरी,हादसे, जब्ती के वाहनों को खड़ा रखा गया है, लेकिन ये खुले आसमान के नीचे खड़े हैं। ये वाहन खुले में खड़े रहने के कारण कंडम तो हो ही रहे हैं, इनसे सामान भी गायब होते रहे हैं।
अन्य विभागीय कार्रवाई के वाहन भी यहीं -
जिले के सभी थाने में केवल पुलिस द्वारा पकड़े गए वाहन ही नहीं हैं। बल्कि राजस्व, वन और एक्साइज सहित अन्य विभागों द्वारा जब्ती किए जाने वाले वाहनों को भी खड़ा किया गया है। लंबा समय गुजर जाने के बाद न तो जब्त करने वाले विभाग इनकी सुधर लेते है और न ही पुलिस विभाग इस सम्बंध में कोई कार्रवाई कर पाया।
लंबा मुकदमा,वाहन कंडम -
हादसे का अवैध खनन,चोरी की बरामदगी की बाइक सहित अन्य मामलों में पकड़े गए वाहनों की सुपुर्दगी वाहन मालिक को तब तक नहीं दी जाती जब तक न्यायालय से फैसला नहीं आता। इधर फैसला आने में कई वर्ष लग जाते हैं। जब तक लोग न्यायालय के चक्कर काटकर केस जीतते हैं तब तक वह वाहन किसी काम का नहीं बचता, जो सिर्फ कबाड़ी के काम का रह जाता है।


पुलिस,जब्ती,कार्रवाई,हादसा, एक्सीडेंट,थाना,परिसर,कबाड़, चोरी,परेशानी,सामान,उपकरण,मुकदमा,सुपुर्दगी वाहन मालिक

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned