सरहद पर दुश्मनों को धूल चटाने वाला सैनिक सिस्टम से लड़ रहा 'जंग'

Mukesh Kumar

Publish: Oct, 19 2016 08:23:00 (IST)

Shahjahanpur, Uttar Pradesh, India
 सरहद पर दुश्मनों को धूल चटाने वाला सैनिक सिस्टम से लड़ रहा 'जंग'

पुलिस के रवैये से परेशान होकर सैनिक ने फौज छोड़ डकैत बनने की भी चेतावनी दी थी।

शाहजहांपुर। वो बॉर्डर पर तैनात होकर दुश्मनों को धूल चटाता है, लेकिन देश में सिस्टम से जंग लड़ रहा है। सरहद पर तैनात होकर देश की रक्षा करने वाले एक सैनिक का घर तक सुरक्षित नहीं रहा। डकैतों ने घर घुस उसके बूढ़े मां-बाप को बंधक बनाया और सारा सामान लूट लिया। हैरानी की बात ये है कि घटना के 15 दिन बाद भी पुलिस डकैतों का पता नहीं लगा पाई। जिससे परेशान सैनिक ने बुधवार को बूढ़े मां-बाप संग धरना दिया और पुलिस को घटना का खुलासा करने के लिए दो दिन का अल्टीमेटम दिया।

 Umesh Singh
बूढ़े मां-बाप और ग्रामीणों संग धरने पर बैठा सैनिक उमेश सिंह
5 अक्टूबर को सैनिक के घर में हुई डकैती

जिले के सिंधौली निवासी सैनिक उमेश सिंह के घर में पांच अक्टूबर की रात कुछ हथियारबंद बदमाशों ने डाका डाला। सूचना मिलने पर राजस्थान में भारत-पाक बॉर्डर पर तैनात उमेश सिंह छुट्टी लेकर घर आ गया। इसके बाद उमेश सिंह ने जिले के पूर्व पुलिस अधीक्षक डॉ मनोज कुमार, डीएम रामगणेश सहित तमाम अधिकारियों के चक्कर लगाए, लेकिन पुलिस उसे टरकाती रही।

 Umesh Singh
नारेबाजी करते ग्रामीण
नौकरी छोड़ डकैत बनने की दी चेतावनी

उमेश सिंह ने आरोप लगाया था कि जब वो पुलिस के आला अधिकारियों के पास शिकायत लेकर पहुंचा तो उसके बुरा बर्ताव किया गया। पुलिस के आला अधिकारियों ने उसे अपमानित कर अपने दफ्तर से भगा दिया था। जिससे नाराज होकर उमेश सिंह ने पान सिंह तोमर बनने की धमकी भी दी थी। पीड़ित सैनिक की आवाज को पत्रिका ने डीएम रामगणेश तक पहुंचाया। जिस पर उन्होंने सैनिक को इंसाफ दिलाने का आश्वासन दिया, फिर भी मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई।

Army man Umesh Singh struggling for justice
थाने के बाहर बैठे ग्रामीण
पुलिस को दिया अल्टीमेटम

जिससे परेशान होकर बुधवार को सैनिक उमेश सिंह ने अपने बूढ़े मां-बाप और ग्रामीणों संग पुवायां थाने के सामने धरना दिया। पीड़ित उमेश सिंह ने कहा कि अगर पुलिस ने दो दिन के भीतर उसके घर हुई डकैती का खुलासा नहीं किया तो वो परिवार सहित शाहजहांपुर में पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने अनशन पर बैठ जाएगा। वहीं धरना स्थल पर मौजूद पुवायां के सीओ अरुण कुमार का कहना है कि अज्ञात डकैतों के खिलाफ मुकदमा दर्ज है। पुलिस जांच कर रही है।

ये भी पढ़ें- बीहड़ की राह पकड़ने को मजबूर एक और 'पानसिंह तोमर'

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned